अधिशासी अभियन्ता राम विलास सिंह यादव को प्रमुख अभियन्ता कार्यालय लखनऊ से सम्बद्ध किया गया जांच परिणाम आने के बाद की जायेगी कड़ी कार्यवाही - धर्मपाल सिंह

लखनऊ: दिनांक: 31 जनवरी, 2019

उत्तर प्रदेश के सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह के निर्देश पर अधिशासी अभियन्ता रिहन्द बांध सिविल खण्ड पिपरी श्री राम विलास सिंह यादव को तत्काल प्रभाव से प्रमुख अभियन्ता कार्यालय लखनऊ से सम्बद्ध कर दिया गया है।

सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने बताया कि श्री यादव के विरूद्ध पूर्व में भी तीन जांच लम्बित है। उन्होंने बताया कि लम्बित जांचों में रिहन्द बांध की दीवारों में पड़ चुकी दरार के कार्यों में घोर लापरवाही एवं भ्रष्टाचार की भी शिकायतों की जांच भी चल रही है। धर्मपाल सिंह ने बताया कि अधिशासी अभियन्ता द्वारा सोशल मीडिया पर किये गये कृत्य को भी गम्भीरता से लिया गया है। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही जांच का परिणाम आने के बाद उनके विरूद्ध अग्रेत्तर कार्यवाही की जायेगी।

धर्मपाल सिंह ने बताया कि अधिशासी अभियन्ता राम विलास सिंह यादव के कृत्यों से मुख्यमंत्री जी को भी अवगत करा दिया गया है।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,