एपीएफ बटालियन में नेपाल एपीएफ व एसएसबी के बीच संयुक्त कोआर्डिनेशन बैठक

जनपद लखीमपुर खीरी भारत नेपाल के गौरीफंटा बार्डर से सटे नेपाल के शहर धनगढ़ी में बने एपीएफ बटालियन में नेपाल एपीएफ व एसएसबी के बीच संयुक्त कोआर्डिनेशन बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में दोनों ही देशों के अधिकारियों के बीच विभिन्न महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा हुई। दोनों ही देशों के अधिकारियों ने एक दूसरे का सहयोग करने की बात कही।सशस्त्र सीमा बल व एपीएफ नेपाल के बीच नेपाल स्थित एपीएफ बटालियन में कोऑर्डिनेशन मीटिंग का आयोजन किया गया। भारत और नेपाल के डीआईजी एसएसपी व डीआईजी एपीएफ मौजूद रहे।

इस बैठक में एस एस बी के डीआईजी पीलीभीत एचएमएस विस्ट ,सशस्त्र सीमा बल 39वीं वाहिनी के कमांडेंट मुन्ना सिंह, पीलीभीत के कमांडेन्ट दिलबाग सिंह हल्द्वानी के कमांडेन्ट राजेन्द्र त्रिपाठी व एपीएफ के डीआईजी विनोद श्रेष्ठ के बीच कई मुद्दों पर बातचीत भी हुई। इस दौरान बार्डर पिलर निर्माण के लिये चर्चा की गई, बार्डर पर तस्करी की रोकथाम के लिये, ह्यूमन ट्रैफकिंग रोकने के लिये संयुक्त प्रयास किये जाने पर सहमति बनी। इसके अलावा भारत नेपाल सीमा पर जंगल के रास्ते पर होने वाले आवागमन को रोकने व नो मैंस लैंड पर जमीन का अनाधिकृत रूप से किये जाने वाले कब्जों की रोकथाम का निर्णय लिया गया।

और मादक पदार्थों की तस्करी होने के संयुक्त सवाल पर दोनों देशों के बीच गश्त बढ़ाने, माह में एक.बार संयुक्त बैठक करने, सूचनाओं का आदान-प्रदान करने और सूचनाओं का आदान-प्रदान करने हेतु व्हाट्सएप ग्रुप बनाने पर सहमति बनी।तथा वन्य जीवों की तस्करी पर भी रोक लगाने हेतु संयुक्त गश्त करने, सूचनाओं का आदान-प्रदान करने पर सहमति बनी साथ ही अवैध दवा विक्री पर तथा मानव तस्करी पर रोक लगाने हेतु सशक्त कदम उठाने की बात दोनों ओर से की गई।इस बीच तमाम लोगों की मौजूदगी रही ।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,