राष्ट्रहित राजनीति से ऊपर होना चाहिए-सुनील सिंह 

लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील सिंह ने कहा भाजपा प्रदेश पर संकट के वक्त भी राजनीति करने वालों का चुनावी लाभ उठाने का काम कर रही है  राष्ट्रहित राजनीति से ऊपर होना चाहिए। जब देश पायलट की वापसी की दुआ कर रहा है तो भाजपा के नेताओं की यह रणनीति बन रही है कि इसका चुनावी लाभ कैसे उठाया जाए। केंद्र और राज्य की सरकार ध्यान भटकाने झूठ बोलने ब्रांडिंग करने और मार्केटिंग करने की राजनीति ही जानती है हालात कितने भी खराब हो पर इस  भाजपा के कार्यक्रम जारी हैं।
देश में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। खुलेआम  संविधान को जलाया जा रहा है। देश को हजारों साल पीछे ढकेल कर मनुवाद को बढ़ावा दिया जा रहा है।  प्रदेश की सरकारें संविधान के अनुरुप कार्य नही कर रही है। जो व्यक्ति न्याय और संविधान की बात करता है उसको अनेक प्रकार से प्रताड़ित किया जाता है। धार्मिक उन्माद फैलाकर दंगा कराए जा रहे है। जनता को गुमराह कर मुख्य मुद्दों से ध्यान हटाया जा रहा है। उन्होंने सपा बसपा के गठबंधन पर बोलते हुए कहा कि दोनों दल अपने वजूद को बचाने और अपने हित को साधने के लिए एक साथ एक मंच पर आये है। ऐसे में इस गठबंधन से सावधान रहने की जरुरत है। मौजूदा हालात पर उन्होंने देश व प्रदेश वासियों को चौकन्ना रहने की बात कही। उन्होंने आगे कहा कि सत्ताधारी से चुनाव पूर्व किए गए वायदों को चुनाव के दरम्यान पूछने की बात कही। राष्ट्रवाद के नारे पर आमजन को चौकन्ना रहने की आवश्यकता है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,