सिपड़ा योजना के अन्तर्गत दिव्यांगजन हितौषी वातावरण सृजित करने के लिए  03 भवनों हेतु 35.42 लाख रूपये की धनराशि स्वीकृत

 

 

     लखनऊ: दिनांक 01 मार्च, 2019

 

उत्तर प्रदेश सरकार ने वित्तीय वर्ष 2018-19 में दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के सिपड़ा योजना के अन्तर्गत दिव्यांगजन हितैषी वातावरण सृजित करने के लिए जनपद लखनऊ के 02 और अयोध्या के 01 भवन हेतु 70.84 लाख रूपये की वित्तीय स्वीकृति जारी करते हुए इसके सापेक्ष प्रथम किश्त के रूप में 50 प्रतिशत धनराशि 35.42 लाख रूपये व्यय किये जाने हेतु स्वीकृति प्रदान की है। 

दिव्यांजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा जारी शासनादेश में कहा गया है कि स्वीकृत धनराशि निदेशक, दिव्यांजन सशक्तीकरण विभाग, उत्तर प्रदेश के निवर्तन पर रखी जायेगी। जनपद लखनऊ के जिन दो भवनों में दिव्यांजन हितैषी वातावरण सृजित करने के लिए निर्माण कार्य कराये जायेंगे, उनमें डा0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय, लखनऊ के निर्माणाधीन शैक्षिणक भवन में एक लिफ्ट तथा रैम्पों पर एस0एस0 रेलिंग का कार्य कराया जायेगा। इसी प्रकार इसी विश्वविद्यालय के वास्तुकला संकाय के पुराने शैक्षणिक भवन में शौचालय की मरम्मत एवं जीर्णोंधार का कार्य कराया जायेगा। 

जनपद अयोध्या के विकास भवन के लिए एक इलेक्ट्रिक पैसेंजर इलेवेटर का कार्य कराया जायेगा। इन तीनों भवनों में कार्य के लिए उत्तर प्रदेश राज्य निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ लिमिटेड को कार्यदायी संस्था नामित किया गया है। स्वीकृत धनराशि का व्यय भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार कराया जायेगा। इसका पूर्ण दायित्व निदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग का होगा। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,