जल संस्थान के मोटर फुकने से पेयजल संकट छाया






पनवाड़ी /महोबा 

कस्बे मे जल संस्थान के ट्यूबवेल के मोटर फुक जाने के कारण बीते तीन दिनो से उपभोक्ताओ की टोटियो मे बूंद पानी न टपकने से पीने के पानी की विकराल समस्या खड़ी हो गई जल संस्थान की टंकी सफेद हाथी साबित हो रही है पीने का पानी न मिलने के कारण उपभोक्ताओ मे भारी आक्रोश देखा जा रहा है ।

कस्बे विगत तीन दिनो से जल संस्थान के मोटर फुक जाने के परिणाम स्वरूप पीने के पानी की किल्लत के चलते उपभोक्ताओ मे हाहाकार मचा हुआ है वही दूसरी ओर जल संस्थान के जिम्मेदारों के कान मे जूं तक नही रेंगी उपभोक्ता जिम्मेदारों की उदासीनता के कारण अधिक नाराज़गी व्यक्त कर रहे है बताते चले कस्बे मे जल संस्थान के अलावा इंडिया मार्का के जितने भी हैंडपंप लगे उन सभी मे खारा पानी निकलने से पानी पीने योग्य नही है कस्बे मे एक मात्र साधन पेयजल टंकी से उपभोक्ताओ को पीने योग्य पानी मिलता है बीते तीन दिनो से जल संस्थान की टोटियो से पानी न निकलने के सबब उपभोक्ताओ के सामने पीने के पानी की विकराल समस्या खड़ी हो गई है इस सम्बंध मे जल संस्थान के जे ई पवन सिह से दूरभाष पर संवाददाता ने जानकारी चाही जे ई ने बताया जल संस्थान की टंकी भरने के लिए छ:ट्यूबवेल उपलब्ध है जिनमे से चार मोटरे फुक चुकी है उच्च अधिकारियो को इससे से अवगत करा दिया गया है मोटर सही हो जाने पर सप्लाई सुचारू रूप से की जायगी ।


 

 


 



 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,