बुंदेलखण्ड नवोदय महाविद्यालय श्रीनगर में पूज्य बापू गांधी जी की 150 वीं जयंती व लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती







बुंदेलखण्ड नवोदय महाविद्यालय श्रीनगर में पूज्य बापू गांधी जी की 150 वीं जयंती व लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती के शुभअवसर पर भाषण प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसका *विषय था गांधी जी के विचारों की वर्तमान समय में सार्थकता* इसमें प्रथम स्थान प्राप्त किया मोहनी सोनकिया, द्वितीय स्थान आकांक्षा विश्वकर्मा , तृतीय स्थान कीर्ति सोनी ने प्राप्त, सांत्वना पुरस्कार प्रियंका, पंकज, अपर्णा, प्रिंसी, चांदनी, सोनिया, गीता ने प्राप्त किया, प्रतियोगिता में निर्णायक मंडल में महाविद्यालय के प्रथम बैच के छात्र गीता सोनी, प्रतिमा बाजपेई, संदीप यादव, संदीप पटेल रहे।

 हमारे  महाविद्यालय के *डॉ नारायण सिंह* ने गांधी जी, के बारे में बताया कि गांधी अब वर्तमान समय में विचारधारा है जिसे हम आत्मसात करें, *प्राचार्य दिनेश चंद्र पटेरिया* ने बताया कि लाल बहादुर शास्त्री जैसी सादगी पूर्ण जीवन जिए और अपने मन को कंट्रोल करे म+न = मान+नाम बताया यह दोनों आगे आना चाहते है, *उप प्राचार्य विश्वनाथ सिंह परिहार* ने गांधी जी के विचारों पर प्रकाश डालते कहा कि गांधी पर जो लोग गलत टिप्पणी करते है, उन्हें स्वयं का चरित्र देखे और इतिहास का सही अध्ययन करें, कार्यक्रम का *संचालन प्रवक्ता आशीष मिश्रा* ने किया उपस्थित रहे राजकुमार पांचाल,  विनय सिंह , सुरेंद्र तिवारी, रमाशंकर, मनोज नामदेव आदि।।


 

 




 

 

 


 



 



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,