मुगलो द्वारा बदले नामो का भारतीय नामांकरण हो : शंकराचार्य






                       मुगलो द्वारा बदले आगरा के नाम का हो पुनः नामांकरण

सरकार एएमयू में भी करे हिन्दुओ की नियुक्ति


 

आगरा : सर सैयद अहमद खान द्वारा स्थापित अलीगढ मुस्लिम विवि में आज तक एक भी हिन्दू प्रोफेसर नही बना, इसी तर्ज पर मदन मोहन मालवीय ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय बनाया अगर सरकार एएमयू में हिन्दू प्रोफेसर नियुक्त करे तो बीएचयू में मुस्लिम प्रोफेसर रखे हमें कोई आपत्ति नहीं है | ये कहना था मीडिया से चर्च रोड, राम नगर स्थित मोहनलाल सर्राफ के निवास पर एक घंटे प्रवास पर आये जयोतिर्मठ बदरिकाश्रम हिमालय के जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी वासुदेवानन्द सरस्वती का | प्रयागराज से वृन्दावन जाते हुए आगरा में विश्राम के समय उन्होंने हाल ही में आये राममंदिर के फैसले पर कहा कि हिन्दू धर्म नही है एक विचारधारा है, इस्लामिक विचारधारा की कट्टरता के बाद यह विचारधारा जरूरी है। सरकार को ट्रस्ट बनाकर राम मंदिर का निर्माण करे और उसमे जिसको भी शामिल करना हो करे | 

 

नित्यानंद सीडी प्रकरण के सवाल पर उन्होंने कहा कि नित्यानंद कौन हैं मैं नही जानता। पहले कुछ संत हुए हैं जो संतो की परंपरा में नही रहे, उन्होंने ऐसे लोगो को संत मानने से इनकार कर दिया और उन्हें व्यापारी बताते हुए जनता को ऐसे लोगो से सावधान रहना चाहिए | जगद्गुरु शंकराचार्य ने जेएनयू में फीस बढ़ोतरी पर कहा कि छात्रों के हित में शिक्षा सस्ती और अच्छी होनी चाहिए क्योकि ये सरकार का दायित्व है छात्रों को किफायती शिक्षा मुहैया कराये | आगरा का नाम अग्रवन किये जाने के सवाल पर खुद को आगरा का नाम बदलने के पक्ष में बताते हुए कहा कि जिन जगहों के नाम मुगलो या अंग्रेजो ने बदले है उनका पुनः भारतीय नामकरण हो |  










 

5 Attachments


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,