आज पूरे प्रदेश में तहसील एवं जिला मुख्यालयों पर गन्ना किसानों के हितों के लिए सभी जिला/शहर कांग्रेस कमेटियों द्वारा किया गया विशाल आन्दोलन

लखनऊ 04 दिसम्बर।  
उ0प्र0 कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी के आह्वान पर आज प्रदेश भर की जिला एवं शहर कांग्रेस कमेटियों द्वारा गन्ना किसानों को 450 रूपये प्रति कुन्तल गन्ना मूल्य दिये जाने, गन्ना किसानों के बकाये गन्ना मूल्य का भुगतान किये जाने एवं बन्द चीनी मिलों को चालू किये जाने की मांग को लेकर और एक हजार से अधिक किसानों को पराली जलाने पर जेल भेजे जाने के विरोध में तहसील एवं जिला मुख्यालयों पर आन्दोलन किया गया।
मेरठ में जिला/शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा जिमखाना मैदान से कलेक्ट्रेट तक आयोजित विरोध मार्च/घेराव का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी ने किया। आन्दोलन का नेतृत्व करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि जो लोग मंचों पर या सदनों में कहा करते थे कि हमारी सरकार किसानों के साथ खड़ी है आज ऐसी कौन सी स्थिति आ गयी है कि 14 दिनों में गन्ने का बकाया भुगतान न होने पर ब्याज देंगे, ब्याज तो ब्याज आज मूलधन भी नहीं दे पा रहे है। गन्ने के मूल्य का निर्धारण नहीं हुआ है लगभग 6 हजार करोड़ रूपये गन्ना मूल्य जो बकाया है उसका भुगतान नहीं किया जा रहा है। किसानों की पर्ची पर गन्ना तो लिया जा रहा है लेकिन गन्ने के रेट का निर्धारण करने का काम नहीं किया है। इन तमाम विषयों को लेकर कांग्रेस पार्टी पूरे प्रदेश में आन्देालनरत है। हमारी मांग है कि गन्ने का रेट 450 रूपये प्रति क्विंटल किया जाए, लगभग 6 हजार करोड़ रूपये जो किसानों का गन्ना मूल्य बकाया है उसे तत्काल भुगतान किया जाए और ब्याज भी देने का काम करें।
कांग्रेस पार्टी ने आज सड़क पर बैठकर आन्दोलन शुरू किया और उन्होने कहा कि अगर यह सरकार कुम्भकर्णी नींद से नहीं जागी तो सदन और लखनऊ के गलियारों में भी इस मुद्दों को उठाने का काम किया जायेगा। उ0प्र0 सरकार के जिस गन्ना मंत्री के जिले में चीनी मिल पर ढाई सौ करोड़ बकाया हो, तो पहले हम गन्ना मंत्री के क्षेत्र में लेागों को जगाने आये हैं कि किसानों के साथ धोखा बन्द करो, किसानों का शोषण बन्द करो, किसानों पर अत्याचार बन्द करो और गन्ने का भुगतान करो।
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि किसान फसल बीमा योजना के तहत पहले किसान की फसल बर्बाद होने पर मुआवजा दिया जाता था लेकिन इस सरकार ने उसको भी समाप्त कर दिया है। किसानों को कोई लाभ नहीं मिल रहा है।
आलू उत्पादक किसान यदि अपने आलू को विधानसभा के सामने सड़क पर फेंकता है तो यह जुल्मी सरकार उसके खिलाफ मुकदमा लिखवाकर जेल भेज देती है। आज किसान कर्ज में दबा हुआ है किसानों का शोषण, अन्याय और अत्याचार हो रहा है। आज प्रदेश में किसान आन्देालन की शुरूआत हो रही है कांग्रेस पार्टी का यह आन्देालन गांधीवादी तरीके से हो रहा है। किसानों की समस्याओं को लेकर सरकार के कान पर यदि जूं नहीं रेंगती है कांग्रेस पार्टी इस आन्दोलन को और व्यापक स्तर पर करेगी।
आन्देालन में प्रमुख रूप से श्री वीरेन्द्र सिंह गुड्डू मेरठ जोन प्रभारी, श्री विदित चैधरी, पूर्व विधायक श्री गजराज सिंह, पं. जयनरायन शर्मा पूर्व विधायक, श्री अशोक भारती, सपना सोम, श्री युसुफ कुरैशी, श्री ओमवीर यादव, श्री रोहित राणा सहित हजारों की संख्या में कांग्रेसजन शामिल रहे।
लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस के सचिव एवं प्रभारी लखनऊ श्री रमेश कुमार शुक्ल, पूर्व विधायक श्री श्यामकिशोर शुक्ल, जिलाध्यक्ष श्री गौरव चैधरी, शहर अध्यक्ष श्री बोधलाल शुक्ला एड. आदि सैंकड़ों कांग्रेसजनों द्वारा कलेक्ट्रेट गेट पर प्रदर्शन किया गया।
प्रदेश के अन्य जनपदों में राष्ट्रीय सचिव श्री बाजीराव खाड़े जी फतेहपुर में, फैजाबाद में पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा0 निर्मल खत्री, झांसी में पूर्व केन्द्रीय मंत्री श्री प्रदीप जैन आदित्य, बुलन्दशहर में पूर्व सांसद श्री कमलकिशोर कमाण्डो, रामपुर में पूर्व सांसद बेगम नूर बानो के नेतृत्व में आन्दोलन किया गया। इसी प्रकार नोएडा, कासगंज, आगरा, पीलीभीत, शाहजहांपुर, बिजनौर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, सुलतानपुर, बस्ती, इटावा, महराजगंज, इलाहाबाद, सोनभद्र, वाराणसी, बलिया, देवरिया, गोरखपुर, संतकबीर नगर, सिद्धार्थनगर, बांदा, चित्रकूट सहित प्रदेश के सभी जनपदों में जिला/शहर इकाइयों द्वारा आन्दोलन किया गया।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,