सुन्नी सीरत कौन्सिल ने वक्फ बोर्ड के फैसले का स्वागत किया


लखनऊ। 01 दिसम्बर, सुन्नी सीरत कौन्सिल के प्रदेष मंत्री एवं मुस्लि राश्ट्रीय मंच के प्रदेष कार्यकारिणी सदस्य ख्वाजा मो0 अदनान ने अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दायर नही करने के एलान का सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड के फैसले का स्वागत करते हुए बोर्ड के चैयरमेन जुफर अहमद फारूकी और मेम्बरान की प्रषंसा की। श्री ख्वाजा मो0 अदनान ने कहा कि इस मुद्दे पर लम्बे समय से चर्चा चल रही थी और इसका अच्छी तरह से राजनीतिकरण किया गया था। मगर सुप्रीम कोट के फैसले ने दो समुदायों को आपस में लड़न से बचा लिया और इस पर सुन्नी वक्फ बोर्ड से यह फैसला कि पुनर्विचार याचिका दायन नही की जाएगी, उन लोगों के मुंह पर जोरदार तमाचा है जो पुनर्विचार याचिका दायर करने की बात कर रहे हैें। सुन्नी सीरत कौन्सिल के प्रदेष मंत्री ने कहा कि बोर्ड का अदालत द्वारा दी गई पाँच एकड़ वैकल्पिक जमीन के सिलसिले में यह कहना कि सरकार की पेषकष के अनुसार कदम उठाया जाएगा, काफी सोचा समझा फैसला है। इसका हमारी कौन्सिल पूरी तरह से समर्थन करती है। उन्होंने अयोध्या मामले पर मुस्लिम पर्सनल लाॅ बोर्ड के फैसले को निराषाजनक बताते हुए कहा कि इससे लड़ाई खतम नही होगी।
 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,