आनन्द विहार से 7 जून को चन्दौसी पहुंचेगी स्पेशल ट्रेन

 चन्दौसी कोरोना से बचाव को पूरे देश मे लाकडाउन कर दिया गया और सभी प्रदेशों की सीमाए सील कर दी गईं। सरकार के इस फैसले से रेलवे में सफर करने वाले गरीब प्रवासी मजदूरों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। रेल से सफर करने वाले प्रवासी मजदूर जहां-तहां फंसे रह गए। रेलवे के इस बडे.फैसले के बाद फिर रेलवे विभाग की ओर से बड़ा निर्णय लिया गया है कि यात्रियों को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाने के लिए 7 जून से रेलवे सेवा शुरू कर दी जायेगीजिसके लिए यात्रियो को ऑनलाइन टिकट बुक कराकर रेल मे सफर कर सकेंगे। ट्रेन में बैठने से पहले यात्रियों को 90 मिनट पहले रेलवे स्टेशन पर पहुंचना होगा। पहले यात्रियों की थर्मल स्कीनिंग की जाएगी और उसके बाद रेलवे मे प्रवेश होने से पहले पूरा सेनेटाइज किया जाएगा। यात्रियों के लिए रेल मे सोशल डिस्टेसिंग मास्क की अनिवार्यता होगी। जिससे कोरोना वायरस से बचाव हो सकेइसके रेलवे विभाग ने पूरी तैयारियां कर ली हैं। रेलवे स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने से पहले स्वास्थ्य कर्मी मौजूद रहेंगे। स्वास्थ्य एवं पेयजल व्यवस्था पूरी तरह दुरूस्त रहेगी। यात्रियों सुरक्षा के लिए पुलिस भी तैनात कि जाएगी। जिससे यात्रियों को किसी असुविधा का सामना न करना पड़े। शनिवार को इस संदर्भ मे रेलवे स्टेशन अधीक्षक के कार्यालय चन्दौसी में उपजिलाधिकारी महेश प्रसाद दीक्षित रेलवे स्टेशन अधीक्षक आशीष कुमार मिश्रा, राजेश कुमार तायल सीनियर ईएसएम के साथ बैठकर वार्ता हुई। जिसमे राजेश कुमार तायल ने बताया कि 7 जून को दिल्ली आनन्द विहार से चन्दौसी पहुंचने वाली ट्रेन 04010 सुबह के बजकर 55 मिनट पर चन्दौसी स्टेशन पर पहुंचेगी और 5 मिनट रूकने के बाद बापूधाम मोतिहारी के लिए रवाना होगी।8 जून को ट्रेन नं004009 की वापसी होगी। जोकि चन्दौसी स्टेशन पर दिन के 1 बजकर 57 मिनट पर स्टेशन पर पहुंचेगी। ट्रेन के आने से पहले और जाने के बाद पूरे स्टेशन को सेनिटाइज किया जायेगा। बिना मास्क के किसी भी यात्री की टिकट जारी नहीं होगी। यह ट्रेन सप्ताह में एक बार आयेगी। वहीं उप जिलाधिकारी ने रेलवे स्टेशन की व्यवस्थाओं का जायजा लिया।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,