जनपद में 218 अपात्र राशन कार्डों को निरस्त किया गया

कार्ड किए गए निरस्त राश


जिले में भारी संख्या में अपात्र लोगों ने अपने राशन कार्ड फर्जी तरीके  से बनवा लिए हैं। इतना ही नहीं राशन डीलरों ने अपने स्वयं राशन कार्ड बनवा लिए हैं। पूर्ति विभाग के कर्मचारियों के सहयोग से प्रॉक्सी के माध्यम से फर्जी राशन कार्डो से राशन निकाला ज राशन निकाला जा रहा है। जब  अखबारने जिले में फर्जी राशन कार्डों की पोल खोली और गरीब राशन कार्ड के पात्र को हित में प्रमुखता से आवाज उठाई, तो जिले में बन हुए फर्जी राशन कार्डों का मामला जिलाधिकारी अविनाश कृष्ण सिंह के संज्ञान में आया जिलाधिकारी ने फर्जी राशन कार्डों को तुरंत निरस्त किया और सत्यापन करने का आदेश दिया। इसके बाद पूर्ति विभाग के कर्मचारियों जिलाधिकारी के निर्देश का कोई असर नहीं पड़ता दिख रहा। जिला पूर्ति अधिकारी नरेंद्र तिवारी बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश के बाद जनपद में 218 अपात्र राशन कार्डों को निरस्त किया गया जिले में अगर कोई राशन बिक्रेता अपात्र श्रेणी में आता है उसने अपने नाम से राशन कार्ड बनवा लिया है तो उस राशन बिक्रेता खिलाफ कानूनी कार्रवाई जाएंगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

आपकी लिखी पुस्तक बेस्टसेलर बने तो आपको भी सही निर्णय लेना होगा !