12 जून को सैल्यूट करें न्यायमूर्ति जगमोहन लाल सिन्हा और लोकबन्धु राजनारायण को-रामगोविन्द चौधरी नेता प्रतिपक्ष, उत्तर प्रदेश

साथियों,


याद रहे, चुनाव में सरकारी साधनों के दुरुपयोग का वह मुकदमा जिसे दायर किया था लोकबन्धु राजनारायण ने 1971 का लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इन्दिरा गाँधी के खिलाफ।


जिसमें इलाहाबाद हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति माननीय श्री जगमोहन लाल सिन्हा ने 12 जून 1975 को सुनाया अपना ऐतिहासिक फैसला और कहा,


" श्रीमती इन्दिरा गाँधी की जीत अवैध। 6 साल तक नहीं लड़ सकतीं चुनाव।"


साथियों,
12 जून करीब है। इस मुकदमें को याद करें। इस फैसले को याद करें। फिर वर्तमान के हालात पर नज़र डालें और सैल्यूट करें,
न्यायमूर्ति श्री जगमोहन लाल सिन्हा
और 
लोकबन्धु राजनारायण 
को।
जहाँ हैं वहीं से।


-रामगोविन्द चौधरी
नेता प्रतिपक्ष, उत्तर प्रदेश।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,