आईएएस प्रेम प्रकाश मीना को सिटीसीएस एवं अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन्स की ओर से स्मृति चिन्ह सम्मान स्वरूप भेंट


लखनऊ। सम्पूर्ण विश्व सहित भारत देश कोरोना महामारी से लड़ रहा है,ऐसे में शासन,प्रशासन बड़ी ही मुस्तैदी के साथ इससे बचाव का प्रयास कर रहा है। कई अधिकारी जनता एवं प्रवासियों के लिए दिन रात एक करके मेहनत कर रहे है। इसी श्रेणी में ट्रेनी आईएएस बस्ती जिले के हर्रैया जॉइन्ट मजिस्ट्रेट और बस्ती विकास प्राधिकरण सचिव प्रेम प्रकाश मीणा के काम जनता में अफशरशाही में वाहवाही बना रहे है। उन्होंने ना सिर्फ अपने कार्यों से लोहा मनवाया बल्कि दिन रात एक कर लगभग हर अंतिम व्यक्ति तक अपनी पहुंच बनाने का प्रयास भी किया।
प्रेम प्रकाश मीणा जिले में तब सबसे ज्यादा चर्चा में आये थे जब उन्होंने लगभग 40 साल पुराना मामला अयोध्या बस्ती बंटवारा को क्षेत्रीय लोगों के आपसी सहमति से शांत कराया था,
उसके बाद जैसे ही बस्ती विकास प्राधिकरण सचिव पद का अतिरिक्त प्रभार मिला मीणा ने अवैध निर्माण पर बुल्डोजर चलाना शुरू कर दिया।इसके अलावा एक से एक पहल-न्याय आपके द्वार के तहत गांव गांव घर घर जाकर मामले का त्वरित निस्तारण करा समाज के अंतिम व्यक्ति के दिलों में अपना घर बना लिया। आईएस प्रेम प्रकाश मीणा समय-समय पर रक्तदान भी करते रहते हैं ।जनमानस के प्रति समर्पण के इस कार्य के सम्मान में राजधानी की सिटीसीएस फैमिली एवं अजंली फ़िल्म प्रोडक्शन्स ने स्मृति चिन्ह के तौर पर ट्रेनी आईएएस प्रेम प्रकाश मीना को बस्ती में स्मृति चिन्ह सम्मान स्वरूप भेंट किया ।स्मृति चिन्ह बस्ती ज़िले में टीम के सदस्य आशुतोष ओझा द्वारा उन्हें प्रदान किया गया। स्मृति चिन्ह पाकर आईएएस प्रेम प्रकाश मीणा ने खुशी जाहिर की एवं जनता के प्रति अपने कार्यों को और ज्यादा मजबूती और अंतिम आदमी तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। स्मृति चिन्ह देने वाले संस्था के प्रोजेक्ट्स में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने वाले आशुतोष ओझा को भी सम्मान दिया गया,जिन्होंने प्रवासियों को उनके गृह तक पहुँचाने एवं भोजन इत्यादि की व्यवस्था की थी। सीटीसीएस फैमिली एनजीओ की मीडिया कोआर्डिनेटर एवं अंजली फिल्म प्रोडक्शन की प्रोडक्शन हेड अंजली पांडे ने बताया कि यह सम्मान ग्रहण करके श्री प्रेम प्रकाश मीना जी ने हमारे सम्मान का सम्मान बढ़ा दिया है ऐसे अधिकारियों के कारण ही ऐसे भयानक माहौल में लोगों को समुचित सुविधाएं मिल रही हैं अंजलि फिल्म प्रोडक्शन के प्रोडक्शन हेड बृजेंद्र बहादुर मौर्या के अनुसार आईएएस नियमों को लाने और नियमों को बनाने एवं नियमों को लागू करने के लिए अहम भूमिका निभाते हैं और इसमें वही अलग नजर आता है जो जनता तक जनता के बीच में पहुंचकर काम करता है उन्हीं में से ऐसे अफसर हैं प्रेम प्रकाश मीणा । टीम से आशुतोष ओझा बस्ती जिले में लॉक डाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की एवं विभिन्न अलग-अलग तरीकों से हर संभव मदद कर रहे हैं।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,