कोरोना संक्रमण के सफल उपचार में वेंकटेश्वरा अव्वल

 


अमरोहा वेंकेटेश्वरा विश्वविद्यालय एवं विम्स मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल सोमवार को वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ते हुए लगातार 80वें दिन सफलता का नया इतिहास लिख गया। जहां आज दुनिया भर के विकसित देश इस वैश्विक महामारी के सामने घुटने टेक चुके है। वही दूसरी ओर जनपद में स्थित विम्स मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल का अब तक का कोरोना स्वास्थ्य रिकवरी रेट 100 प्रतिशत शत प्रतिशत रहा हैं। सोमवार को एक बार फिर अमरोहा, संभल एवं अन्य जिलों के कोरोना संक्रमित सभी मरीजों की अच्छे उपचार एवं बेहतर खानपान के कारण रिपोर्ट नेगेटिव आई है। विम्स मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं जिला प्रशासन द्वारा इन सभी कोरोना विजेताओं उपहार देकर इनके ऊपर पुष्प वर्षा कर उनके घरों को रवाना कियाजिलाधिकारी ने कोरोना मरीजों शत प्रतिशत स्वास्थ्य रिकवरी होने पर विम्स प्रबंधन की जमकर प्रशंसा करते हुए इसको देश-दुनिया हॉस्पिटलस के लिए मॉडल बतायाउन्होंने हॉस्पिटल का निरीक्षण कर मरीजो के प्रभावी उपचार अच्छे खानपान के लिए विम्स प्रबंधन की पीठ भी थपथपाई। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि पूर्व भी विम्स में अभी तक 71 संक्रमित मरीज को उपचार के लिए विम्स भर्ती कराया गया था। जिनमे से सभी 71 मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आने पर उनको संबंधित उपचार देकर स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया था। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति डॉक्टर सुधीर गिरी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में हम वैश्विक महामारी से प्रभावी ढंग निर्णायक जंग लड़ रहे है। ऐसे वेंकेटेश्वरा विश्वविद्यालय, विम्स मल्टीस्पेशलिटी हॉस्पिटल अपनी पूरी टीम के साथ इस महामारी विरुद्ध निशुल्क उपचार के लिए अपनी डॉक्टर्स, पैरामेडिकलनर्सिंग टीम के साथ देशहित में इस दौरान कुलपति प्रोफेसर भारती, प्रदेश शासन के नोडल अधिकारी डॉ. अधोपंत, चिकित्सा अधीक्षक विम्स डॉ. सुशील शर्मामेरठ परिसर निदेशक डॉ अमित सिंघल, उपनिदेशक दूरस्थ शिक्षाडॉ. अलका सिंह, डॉ. अतुल अग्रवाल, नर्सिंग हेड पॉलिनआनन्द नागर, अरुण गोस्वामीमीडिया प्रभारी विश्वास राणा लोग मौजूद रहे। हुआ है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,