प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा बैठक

हमीरपुर 22 जून 2020

  शासन की प्राथमिकताओं एवं विकास कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी डॉ. ज्ञानेश्वर त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में संपन्न हुई। 

      बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि जुलाई के प्रथम सप्ताह में आयोजित होने जा रहे वृक्षारोपण कार्यक्रम के लिए अगले दो दिवसों में गड्ढे खोद लिए जाएं तथा इसकी सूचना 25 जून तक मांग पत्र के साथ अनिवार्य रूप से भेज दी जाए। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण में यूकेलिप्टस के वृक्षों को हतोत्साहित किया जाए। एक ही स्थान पर अधिक से अधिक प्रजातियों के वृक्षों को रोपित किये जाने हेतु प्रोत्साहित किया जाए। फलदार और औषधीय गुण वाले पौधों को प्राथमिकता दिया जाए। उन्होंने कहा कि जून अंत तक वृक्षारोपण की सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि ग्राम पंचायतों में खेल का मैदान विकसित कराया जाए, इसके समतलीकरण का कार्य भी कराया जाए। पशु आश्रय स्थलों में चारागाह का निर्माण किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी विभागों द्वारा अधिकाधिक रोजगार सृजन किया जाए। रोजगार देने में प्रवासियों को प्राथमिकता दी जाए। रोजगार सृजन के संबंध में आईडी भी जनरेट कर ली जाए और प्रवासियों को उनके हुनर के अनुसार कार्य मिले। यह सुनिश्चित किया जाय। प्रवासियों को प्रत्येक दशा में रोजगार उपलब्ध कराया जाए। मनरेगा तथा अन्य योजनाओं में कार्य करने वाले श्रमिकों का 07 दिवसों में भुगतान कर दिया जाए। 

 जिलाधिकारी ने कहा कि सभी प्रकार के पेंशन प्रकरणों यथा विधवा, दिव्यांग, वृद्धावस्था आदि का 03 दिन में अनिवार्य रूप से बीडीओ तथा अधिशासी अधिकारी के माध्यम से सत्यापन करा लिया जाए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में कहा कि जननी सुरक्षा योजना तथा अन्य योजनाओं के लाभार्थियों, आशा, एएनएम आदि का भुगतान समयबद्ध ढंग से किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि जल संरक्षण व संवर्धन की दृष्टि से सभी ब्लाकों में कम से कम तीन-तीन बड़े नालों का निर्माण/साफ-सफाई एवं सुंदरीकरण आदि कराया जाए। जल के परंपरागत स्रोतों का जीर्णोद्धार कराया जाए। गौ आश्रय स्थलों में वर्षा के दृष्टिगत सभी तैयारियां पूर्ण कर ली जाए। श्रमिकों/प्रवासियों को रोजगार संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या ना होने पाए इसके लिए सभी प्रयास किए जाएं। खाद्य एवं रसद विभाग की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत आधार प्रमाणीकरण की संख्या बढ़ाई जाए तथा शत-प्रतिशत राशन वितरण ई-पॉश मशीन के माध्यम से ही कराया जाए। कहा कि 30 जून तक गेहूं खरीद का लक्ष्य शत-प्रतिशत पूर्ण कर लिया जाए जिन केंद्रों में लक्ष्य के सापेक्ष 50% से भी कम खरीद हुई वहां के केंद्र प्रभारियों पर कार्रवाई की जाए। बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा पाठ्य पुस्तकों का वितरण समयबद्ध ढंग से कराया जाए। ऊर्जीकरण से वंचित मजरों को नेडा द्वारा सोलर आदि के माध्यम ऊर्जीकृत किया जाए। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के आवेदनों का 28 जून से पूर्व सत्यापन कर ली जाय तथा  30 जून तक उसकी आख्या पोर्टल पर अपलोड कर दी जाय। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के आवासों के निर्माण की समीक्षा में जिलाधिकारी ने समयबद्ध ढंग से किस्तों को अवमुक्त कर आवास निर्माण कराने के निर्देश दिए। आंगनवाड़ी निर्माण कार्य पूर्ण कर उसमें बेबी फ्रेंडली शौचालय का निर्माण तथा पेयजल  की समुचित व्यवस्था की जाए। यूपीपीसीएल यूनिट -12 की झांसी डिवीजन के  कार्यों की धीमी प्रगति पर जिलाधिकारी ने संबंधित कार्यों की टेक्निकल टीम गठित कर जांच करने के निर्देश दिए। कहा कि नहरों में टेल तक पानी पहुँचाया जाय। 

इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य, प्रभागीय वनाधिकारी, अपर जिलाधिकारी विनय प्रकाश श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी  डॉ आरके सचान , पीडी चित्रसेन, उपायुक्त स्वरोजगार, जिला विकास अधिकारी विकास सहित अन्य संबंधित मौजूद रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,