प्रवासी भारतीय विभाग द्वारा तैयार किए गए पोर्टल से अब प्रवासी भारतीयों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं एक ही पोर्टल पर उपलब्ध हो सकेंगी: मुख्यमंत्री

लखनऊ: 24 जून, 2020

 


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के समक्ष आज यहां उनके सरकारी आवास पर प्रवासी भारतीयों के लिए राज्य के प्रवासी भारतीय विभाग द्वारा विकसित किए गए यूनीफाइड वेब पोर्टल के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रवासी भारतीय विभाग द्वारा तैयार किए गए पोर्टल से अब प्रवासी भारतीयों को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं एक ही पोर्टल पर उपलब्ध हो सकेंगी। 

प्रस्तुतीकरण देखने के उपरान्त मुख्यमंत्री जी ने इसमें कुछ सूचनाएं अद्यतन करते हुए इसे शीघ्र लाॅन्च करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसमें प्रत्येक वर्ष 24 जनवरी को मनाए जाने वाले उत्तर प्रदेश दिवस के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी उपलब्ध करायी जाए। साथ ही, उत्तर प्रदेश कामगार और श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग के सम्बन्ध में भी सभी सूचनाएं इस पोर्टल पर उपलब्ध करायी जाएं। उन्होंने कहा कि पोर्टल का उद्देश्य प्रवासी भारतीयों को सभी आवश्यक सूचनाएं एक ही जगह पर उपलब्ध कराना है। साथ ही, राज्य में उनकी गतिविधियों को सुगम बनाना भी है। 

मुख्यमंत्री जी के समक्ष प्रस्तुतीकरण करते हुए अपर मुख्य सचिव प्रवासी भारतीय विभाग श्री आलोक कुमार ने बताया कि इस यूनीफाइड वेब पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश की पूर्व में संचालित 03 वेबसाइटों को इंटीग्रेट कर एक सिंगल प्लेटफाॅर्म पर लाना है। उत्तर प्रदेश के प्रवासी भारतीयों को एक यूनीफाइड आॅनलाइन साॅल्यूशन उपलब्ध कराना है, जहां से वे उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलायी जा रही विभिन्न सेवाओं के लाभ को आॅनलाइन प्राप्त कर सकें। इसके माध्यम से विश्वभर में रह रहे उत्तर प्रदेश के प्रवासी भारतीयों का एक डेटाबेस तैयार किया जाएगा, ताकि इसका उपयोग समय-समय पर किया जा सके। इसके माध्यम से प्रदेश में निवेश प्रोत्साहन हेतु विभागों द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों, निवेशोन्मुखी नीतियों का विदेश में बसे प्रवासी भारतीयों में प्रचार-प्रसार किया जाएगा।

मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि विदेशों में बसे प्रवासी भारतीयों को लाभ पहुंचाने हेतु निवेश मित्र (उद्योग बन्धु), एम0एस0एम0ई0, पर्यटन, हथकरघा एवं वस्त्र उद्योग, गृह एवं सूचना विभाग के पोर्टल से लिंक किया गया है। ‘एन0आर0आई0 कनेक्ट’ के माध्यम से प्रमुख विभागों के नोडल अधिकारियों की सूचनाएं उपलब्ध करायी गई हैं। सभी विभागीय सुविधाएं जैसे यू0पी0 एन0आर0आई0 कार्ड, प्रवासी भारतीय रत्न पुरस्कार तथा प्रवासी भारतीय दिवस में सम्मिलित होने के लिए आवेदन पोर्टल के माध्यम से आॅनलाइन ही स्वीकृत किए जाएंगे। 

विदेशों में रोजगार हेतु उत्तर प्रदेश से जाने वाले लगभग 30 प्रतिशत कामगारों/अप्रवासी भारतीयों की विभिन्न समस्याओं के गुणवत्तापरक निस्तारण में यह नवनिर्मित पोर्टल सहायक सिद्ध होगा। अयोध्या के दीपोत्सव और बरसाने की होली की लाइव स्ट्रीमिंग भी इस पोर्टल के माध्यम से की जाएगी। प्रवासी भारतीयों को अपनी मातृभूमि से जोड़े रखने एवं प्रदेश में उनके मूल को खोजने हेतु टेªस योर रूट की सुविधा पर्यटन विभाग के माध्यम उपलब्ध करायी गयी है। 

बैठक में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री श्री सिद्धार्थनाथ सिंह, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन, अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 श्री नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,