उच्च स्तरीय जांच कराकर दोषियों को मिले सख्त सजा : तिलक यादव

समाजवादी पार्टी ने प्रदेश की महामहिम राज्यपाल को भेजा ज्ञापन



ललितपुर। कानपुर के राजकीय संवासिनी गृह में नाबालिग लड़कियों के गर्भवती होने एवं कोरोना पॉजीटिव व एचआईवी संक्रमित मामले की उच्च स्तरीय जांच कराकर खुलासा किये जाने की मांग को लेकर समाजवादी पार्टी ने प्रदेश की महामहिम राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा है। सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव एड. के नेतृत्व में महामहिम राज्यपाल को भेजे गये ज्ञापन में पूरे प्रकरण की जांच के बाद दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग उठायी गयी है।
 ज्ञापन में बताया कि विगत दिनों कानपुर के राजकीय महिला संवासिनी गृह में 57 बालिकायें/महिलायें कोरोना संक्रमित पायी गयी, जिसमें सात गर्भवती व एक एचआईव्ही पॉजीटिव के साथ एक हेपेटाइटिस से ग्रसित निकली। बताया कि इस मामले से प्रदेश में भूचाल आ गया है। इसके पहले देवरिया में ऐसा मामला प्रकाश में आया था, लेकिन समय रहते सरकार नहीं चेती, जिस कारण ऐसी घटना की पुर्नरावृत्ति हुयी। उन्होंने पूरे मैनेजमेंट को जिम्मेवार बताते हुये बदइंतजामी व अन्य खामियों को लेकर पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय निष्पक्ष जांच करायी जाकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही किये जाने की मांग उठायी गयी। अन्यथा की स्थिति में सपा ने आंदोलन की चेतावनी दी। ज्ञापन देते समय जिलाध्यक्ष तिलक यादव,जीतू सरदार, लक्ष्मी विश्कर्मा,नेपाल सिंह, अजीज कुरैशी, आसिफ कुरेशी विजय सिंह यादव विजय जैन कॉफी हाउस  रवि खटीक ह्रदेश यादव मुखिय देवेंद्र यादव बड़वार मोहम्मद निजामुद्दीन शाह सोनू खटीक, तालबेहट से स्वामी यादव एड, धनीराम रजक एड, सुनील तिवारी एड, अनिल कुमार, मानसिंह एड, धर्मेंद्र कुशवाहा एड, आशाराम, विक्रम एड, सुरेश कुमार, राजेश, रामकुमार झा, रमेश कुमार, राजीव कुमार, पैगाम खान, मनोज गुरुदेव, तहसील महरौनी से फेरन लाल अहिरवार पूर्व विधायक, ब्रषभान सिंह (एड), अमर सिंह, शेर सिंह पटेल, अशोक साहू, सजल साहू, सरफराज अली(एड), महेंद्र यादव, दुष्यंत, बबलू राजा, सन्जू बरार, सन्तोष पटेल, दीपू अख्तर सिद्दीकी, जगभान सिंह के अलावा पाली से कृष्ण स्वरूप निरंजन, महेन्द्र प्रताप सिंह बुन्देला, रामकुमार चौरसिया, खेमचंद्र चौरसिया, त्रिवेणी यादव, जय सिंह यादव, मनोज कुमार जैन, अमित, प्रवीण चौरसिया, बृजभान सिंह, इकरार, शाकिर, लक्ष्मी खटीक, जय सिंह, जितेन्द्र यादव, रघुवेन्द्र राजगढ़, दर्शन सिंह, राम प्रताप, बलवीर सिंह, राजवीर आदि मौजूद रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,