वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों ने स्थानीय प्रशासन से मांग की है कि लाक डाउन होने से उनके वेतन नहीं मिल पा रहे जिससे वह व उनके परिवार भुखमरी के कगार पर आ गए


मौदहा,नगर मौदहा में वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों ने एक मीटिंग कर क्षेत्रीय सांसद विधायक व स्थानीय प्रशासन से मांग की है कि लाक डाउन होने से उनके वेतन नहीं मिल पा रहे जिससे वह व उनके परिवार भुखमरी के कगार पर आ गए हैं जिनकी अतिशीघ्र व्यवस्था कराई जाए
 मौदहा में निजी विद्यालयों के शिक्षकों ने एक मीटिंग कर मार्च के महीने से जब से शासन द्वारा लाक डाउन किया गया था उसके बाद से उनकोई भुगतान नहीं दिया गया जिससे वह व उनका परिवार भुखमरी के कगार पर आ गया है बैठक की जानकारी देते हुए सरस्वती शिशु मंदिर के आचार्य राकेश श्रीवास्तव ने बताया कि लाकडाउन  के समय से किसी भी प्राथमिक व जूनियर विद्यालयों के वित्तविहीन शिक्षकों को वेतन नहीं दिया गया विद्यालय के संचालकों का कहना है कि उनके पास ना तो शुलकलिया जा रहा है तो वह भुगतान कहां से करें इससे एक विषम परिस्थिति उत्पन्न हो गई है अल्प वेतन मैं अपने परिवार का भरण पोषण करने वाले शिक्षकों के वेतन न मिलने से उनका परिवार भुखमरी के कगार पर आ गया इसलिए समस्त शिक्षकों ने एक मीटिंग कर क्षेत्रीय सांसद विधायक व स्थानीय प्रशासन से गुहार लगाई है कि उनके व उनके परिवार को भुखमरी से बचाने के लिए प्रयास करें।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,