जरूरतमंद लोगों को उनकी स्किल मैपिंग कर उनकी योग्यता एवं क्षमता के अनुसार काम दिया जाए-डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी

हमीरपुर 09 जुलाई 2020
  
 श्रमिकों / कामगारों के सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा हेतु एवं उनके सर्वांगीण विकास की प्राप्ति हेतु अधिक से अधिक श्रमिकों / जरूरत मंदो को रोजगार दिलाए जाने के संबंध में जिला स्तरीय समिति की बैठक जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।
      बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि प्रवासियों तथा अन्य जरूरतमंद लोगों को उनकी स्किल मैपिंग कर उनकी योग्यता एवं क्षमता के अनुसार काम दिया जाए। ओडीओपी योजना में  लोकल स्तर की औद्योगिक इकाइयों को स्थापित कराए जाने हेतु लोन दिलाया जाए, इस हेतु शासन द्वारा निर्धारित किए गए लक्ष्य को प्राप्त किया जाय । कौशल प्रशिक्षण केंद्र के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त लोगों को रोजगार दिलाया जाए । 
   मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार वैश्य ने कहा कि जनपद के औद्योगिक / व्यवसायिक इकाइयों के माध्यम से भी प्रवासियों / जरूरत मंद लोगों को उनकी स्किल के अनुसार रोजगार दिलाया जाए। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा जनपद में 137552 लोगों / श्रमिकों को रोजगार दिलाए जाने का लक्ष्य दिया गया है। कहा  कि यह लक्ष्य बड़ा है। अतः इसको प्राप्त किए जाने में किसी तरह की शिथिलता न बरती जाए। माटी कला बोर्ड, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना, खाद्य प्रसंस्करण, खादी एवं कुटीर उद्योग तथा अन्य संबंधित योजनाओं में लाभार्थियों का चयन कर स्वरोजगार हेतु शीघ्र उनको लोन दिलाया जाए।
  इस मौके पर मुख्य पशुचिकित्साधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी, डीपीआरओ, श्रम प्रवर्तन अधिकारी , खादी ग्रामोद्योग अधिकारी तथा अन्य संबंधित मौजूद रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,