पानी की बर्बादी रोकने के लिए जन जागरूकता जरूरी ‘‘पूरे सप्ताह प्रदेश भर में मनाया जायेगा भूजल सप्ताह‘‘

लखनऊ दिनांक: 15 जुलाई, 2020

 

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 16 से 22 जुलाई, 2020 तक पूरे प्रदेश में जनपद, विकासखण्ड व तहसील स्तर पर ’’भूजल सप्ताह’’ का आयोजन किया जायेगा। इस उद्देश्य से राज्य सरकार द्वारा शासनादेश 08 जुलाई, 2020 को जारी करते हुए समस्त मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं विभागाध्यक्षों को निर्देश दिये गये हैं कि इस दौरान अपने स्तर पर विभिन्न आयोजन कराते हुए, भूजल की समस्या से इंगित करते हुए व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाय, ताकि जन-मानस में भूजल के प्रति जागरूकता व संवेदना लायी जा सके। इस अभियान के दौरान अधिक से अधिक छात्र-छात्राओं, स्वंय सेवी संस्थाओं एवं जन-मानस को जोड़ा जाय।

इस वर्ष का मुख्य स्लोगन ’’वर्षा जल है जीवन-धारा, उसका संचयन संकल्प हमारा’’ रखा गया है, जिस पर यह आयोजन केन्द्रित होगा।  यह जानकारी भूगर्भ जल विभाग के निदेशक श्री वी.के. उपाध्याय ने दी।

श्री उपाध्याय ने बताया कि कोविड-19 के महामारी के कारण इस बार विद्यार्थियों को इस अभियान से आॅनलाइन जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है।  इस क्रम में प्रदेश की राजधानी लखनऊ में दिनांक 16 से 22 जुलाई, 2020 तक स्कूलों तथा दैनिक सामाचार पत्रो के माध्यम से छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए चित्रकला तथा सुझाव प्रतियोगिता आॅनलाइन आयोजित की जा रही हैं। साथ ही पहली बार एफ0एम0 रेडियो के माध्यम से भी भूजल के महत्व का संदेश जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।

निदेशक ने बताया कि ’’भूजल सप्ताह’’ जैसे जन-जागरूकता अभियान के कार्यक्रमों के माध्यम से हम सभी यह संकल्प लें कि अपनी दिनचर्या में जल का दुरूपयोग रोकेंगे, भूगर्भ जल के अन्धाधुन्ध दोहन को नियंत्रित करेंगे तथा भावी जल निधि के रूप में वर्षा के जल को संचित कर भूजल स्रोतों को बचायेंगे।

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,