सुधा गुप्ता बनी कालपी महाविद्यालय की प्राचार्या, चार्ज सम्भाला

कालपी कालेज कालपी की नवनियुक्त प्राचार्या सुधा गुप्ता ने विधि बिधान के साथ पदभार ग्रहण कर लिया।उन्होंने कहा कि महाविद्यालय का गौरव बढ़ा कर गुणवत्ता पूर्ण शैक्षणिक माहौल बनाना मेरी प्राथमिकता रहेगी।
बुन्देलखण्ड विश्वविद्यालय झांसी से वर्ष 1988 की टापर स्टूडेंट रही सुधा गुप्ता की सन 1991 मे राजनीति शास्त्र के प्रवक्ता के पद पर नियुक्त हुई थी।वर्ष 1988 मे जीवाजी राव यूनिवर्सिटी ग्वालियर से पी.एच.डी.की उपाधि प्राप्त की थी।प्रबंधन के द्वारा सुधा गुप्ता की प्राचार्य के पद पर नियुक्ति कर दी गई।महाविद्यालय के परिसर में सोशल डिस्टनसिंग को मद्देनजर रखकर वैदिक मंत्रोच्चारण एंव विधि विधान के साथ धर्माचार्य पं.शिवशंकर शास्त्री तथा पूर्व प्राचार्य डा.मृत्यंजय सिंह की मौजूदगी में सुधा गुप्ता ने प्राचार्य का पद सम्भाल लिया।इस मौके पर धर्मेन्द्र पाल सिंह, विनीत कुमार, मधु प्रभा त्रिपाठी, कीर्ति पुरवार ,प्रकाश नरायण द्विवेदी सहित शिक्षाविद मौजूद रहे।नवनियुक्त प्राचार्या ने बताया कि महाविद्यालय में अनुशासन तथा गुणवत्ता पूर्ण शैक्षणिक माहौल बनाये रखने के लिए सभी शिक्षकों के सहयोग से अपने दायित्वों का सक्रियता से निर्वाह करूंगी! 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,