छात्रवृत्ति का लाभ पात्र लाभार्थियों को ही मिले -सुरेश कुमार खन्ना


लखनऊ: दिनांक 30 सितम्बर, 2020

प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना ने निर्देश दिए हैं कि प्रदेश में संचालित बी.एड. एवं बी.टी.सी. के एडेड एवं निजी महाविद्यालयों में विभिन्न वर्गों के छात्र-छात्राओं को दी जा रही छात्रवृत्ति का लाभ पात्र लाभार्थियों को ही मिल रही है, इसकी सघनता से जांच करायी जाए। उन्होंने कहा कि राज्य स्तर पर एक टीम बनाकर संबंधित जिले के जिलाधिकारी के साथ इन कोर्सेज को संचालित करने वाले महाविद्यालयों की जांच की जाए।
वित्त मंत्री आज यहां विधान भवन स्थित कक्ष संख्या-80 में समाज कल्याण, पिछड़ा वर्ग कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के अन्तर्गत छात्रवृत्ति योजना के संबंध में बैठक कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा दी जा रही छात्रवृत्ति एवं फीस अनुदान में किसी भी प्रकार की लीकेज को रोका जाए। उन्होंने कहा कि विद्यालयों की मान्यता सहित उसमें बीएड एवं बीटीसी कोर्सेज में पंजीकृत छात्र-छात्राओं एवं उन्हें मिल रही छात्रवृत्ति की जांच करायी जाए। जिससे पात्र लाभार्थियों को छात्रवृत्ति का लाभ मिल सके और यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी प्रकार की अनियमितता न हो।
बैठक में अपर मुख्य सचिव वित्त श्री संजीव मित्तल, सहित समाज कल्याण, पिछड़ा वर्ग कल्याण, अल्पसंख्यक कल्याण एवं दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के वरिष्ठ अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित थे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,