देव भाषा पर पर मौजूदा सरकार कर रही है कुठाराघात- महंत मनोज ब्रह्मचारी महाराज

प्रतापगढ़।
 
सनातन धर्म की संस्कृति ही नही रहेगी तो हमारी सनातन परंपरा हो जाएगी समाप्त


 प्रयागराज के अलोपीबाग के आचार्य बालशुक देवव्रत जी महाराज ने पत्रकार वार्ता में प्रदेश सरकार को जमकर कोसा


 उन्होंने कहा कि संस्कृत विद्यालय किसी भी दशा में बंद होने नही दिया जाएगा। जब सरकार ने पचास वर्षों से स्कूलों में अध्यापक की नियुक्ति नही की तो अध्यापक कहा से रहेंगे ।



आज संस्कृत विद्यालय में बच्चे नही हैं  वो सरकार की गलती है और पत्रकारों के माध्यम से देव व्रत जी ने प्रदेश सरकार से की है माँग की शिक्षकों की नियुक्ति हर शैक्षिक संस्थानों में होनी चाहिए । संस्कृत को अनिवार्य विषय किया जाय 



 सच्चा बाबा आश्रम के महंत मनोज ब्रह्मचारी महाराज ने कहा कि देव भाषा पर पर मौजूदा सरकार कर रही है कुठाराघात


राष्ट्रीय ब्राम्हण एकता के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरेंद्र तिवारी ने कहा कि संस्कृत हमारी राष्ट्रभाषा है इस लिए सरकार से हम मांग करेंगे की जल्द से जल्द संस्कृत विद्यालयों में अध्यापकों की जल्द से जल्द नियुक्ति की जाय।


अगर उत्तर प्रदेश सरकार ने जल्द से जल्द नहीं लिया संज्ञान में तो आने वाले समय में मौजूदा सरकार को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।
जब एक धर्म को अनुदान तो दूसरे धर्म को क्यों नहीं


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या