जैन दर्शन पर शुरू हुआ ऑनलाइन 6 माह का प्रमाण-पत्र कोर्स।

लखनऊ, जैन ग्रंथों के संरक्षण शिक्षा और शोध को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश जैन विद्या शोध  संस्थान अब प्रमाण-पत्र कोर्स शुरू करने जा रहा है। संस्थान के निदेशक डॉ राकेश सिंह ने बताया है कि संस्थान के उपाध्यक्ष डॉ अभय कुमार जैन की पहल पर दो दशक बाद कोर्स शुरू करने की पहल की जा रही है। इच्छुक युवा आवेदन कर सकते हैं। जैन दर्शन को करीब से समझने की मंशा वाले इस कोर्स में पंजीयन करा सकते हैं। 6 महीने का यह कोर्स ऑनलाइन चलेगा। आवेदक की न्यूनतम आयु 17 साल और इंटर पास होना चाहिए। संस्थान की वेबसाइट upjvri.org.in पर ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता।वेबसाइट पर पूरी जानकारी मिल सकती है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या