जिलाधिकारी की अध्यक्षता में ग्रामीण एवं नगरीय पेयजल की समीक्षा बैठक सम्पन्न





ललितपुर।
जिलाधिकारी अन्नावि दिनेशकुमार की अध्यक्षता में ग्रामीण एवं नगरीय पेयजल की समीक्षा बैठक आहूत की गयी।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, ललितपुर, जिला विकास अधिकारी ललितपुर, परियोजना प्रबन्धक उ0प्र0 जल निगम, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद, ललितपुर, जिला पंचायत राज अधिकारी, ललितपुर ने प्रतिभाग किया।
समीक्षा बैठक में बताया गया ग्रामीण क्षेत्रों में 19372 हैण्डपम्प अधिष्ठापित हैं। परियोजना प्रबंधक जल निगम द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम में अन्तर्गत रानीपुरा ग्राम समूह पेयजल योजना एवं बुन्देलखण्ड पैकेज के अन्तर्गत पवा ग्राम समूह पेयजल योजना निर्माणाधीन है। जनपद में 63 ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाओं का संचालन किया जा रहा है, जिसमें से 33 ग्राम पंचायत, 05 जल निगम एवं 25 जल संस्थान द्वारा संचालित की जा रही है। जिसमें से 10 परियोजना बन्द एवं 13 आंशिक रूप से संचालित हैं। अमृत कार्यक्रम के अन्तर्गत 03 कार्यक्रम गृह पेयजल संयोजन, ललितपुर पुर्नगठन पेयजल योजना, एफ0एस0टी0पी0 योजनायों पर कार्य कराया जा रहा है।
मुख्य विकास अधिकारी एवं जिला विकास अधिकारी, ललितपुर द्वारा अवगत कराया गया कि राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन लखनऊ द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में पाइप लाइन से पेयजल आपूर्ति हेतु 17 कलस्टर तैयार करते हुए 28 योजनायें तैयार की गयीं  हैं, जिनमें सतही सोर्स एवं 12 योजनायें भूजल/नलकूप पर आधारित हैं, जिनकी अनुमानित लागत 1623.47 करोड़ है, जिनसे 559 ग्रामों में पेयजल आपूर्ति की जायेगी।
अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद ललितपुर के 04 नगरीय क्षेत्रों में कुल 2420 हैण्डपम्प अधिष्ठापित हैं तथा 04 पाइप पेयजल योजनाओं से नगरीय क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की जा रही है।
जिलाधिकारी महोदय, ललितपुर द्वारा उपस्थित समस्त अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि जनपद में संचालित ग्रामीण पाइप पेयजल योजनाओं का सत्यापन कराया जाये, जिससे पेयजल योजनाओं की वास्तविक स्थिति का पता चल सकें। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में जिन ग्रामों से पाइप पेयजल योजनाओं से पेयजल आपूर्ति की जा रही हैं उनसे जल मूल्य की वसूली किये जाने के निर्देश दिए, जिससे पाइप पेयजल योजनाओं का अनुरक्षण किया जा सके। जिलाधिकारी महोदय द्वारा जिला विकास अधिकारी, ललितपुर को निर्देशित किया गया कि वह निर्माणाधीन पाइप पेयजल योजना रानीपुरा एवं पवा ग्राम समूह पेयजल योजनाओं का स्थलीय सत्यापन कर वास्तविक स्थिति से अवगत करायें। उन्होंने निर्देशित किया कि ग्रामीण/नगरीय क्षेत्रों में स्थापित सरकारी हैण्डपम्पों का सत्यापन कराया जायें कि कहीं किसी व्यक्ति द्वारा उसमें निजी कनेक्शन/मोटर तो नहीं डाली गयी है, यदि ऐसी स्थिति पायी जाये तो उसके विरूद्ध जुर्माना लगाकर आवश्यक कार्यवाही की जाये। अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका को निर्देशित किया गया कि नगरीय क्षेत्रों में संचालित पाइप पेयजल योजनाओं एवं अधिष्ठापित हैण्डपम्पों का सत्यापन कराकर वास्तविक स्थिति से अवगत करायें। पेयजल से संबंधित कोई भी शिकायत हो तो उसे विकास भवन में स्थापित पेयजल कन्ट्रोल रूम (दूरभाष नं0-05176-272022) में दर्ज करायी जाये, जिससे शिकायत का त्वरित निस्तारण संबंधित विभाग से कराया जा सके।




 

 




इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या