कल एक दिन में 7196 बसों से 10.18 लाख लोगों ने यात्रा किया - अवनीश कुमार अवस्थी

प्रदेश में टेस्टिंग की दरे निर्धारित

निजी चिकित्सालयों हेतु दरे निर्धारित आॅन डिमाण्ड टेस्ट भी कराया जा सकता है - अमित मोहन प्रसाद
लखनऊ: 11 सितम्बर, 2020
       उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने आज यहां लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग को पूरी गुणवत्ता के साथ सम्पन्न करने पर विशेष बल दिया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में इस कार्य की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसलिए काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग का कार्य सुव्यवस्थित ढंग से किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए है कि अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य तथा अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज कोविड-19 के दृष्टिगत लखनऊ के जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, नगर आयुक्त आदि के साथ बैठक कर इसके प्रसार को रोकने के लिए प्रभावी कार्य योजना तैयार करें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये है कि संक्रमण की संभावना को कम करने के लिए कांट्रैक्ट ट्रेसिंग का कार्य समय से सुनिश्चिित किया जाए।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राज्य सरकार कोविड-19 से बचाव और उपचार के लिए निरन्तर कार्य कर रही है। गुरुवार को प्रदेश में 01 लाख 50 हजार से अधिक कोविड-19 के टेस्ट का संज्ञान लेते हुए उन्होंने कहा कि टेस्टिंग कार्य को निर्धारित मानकों के अनुरूप किया जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में प्रत्येक दिन 01 लाख 50 हजार टेस्ट हों। उन्होंने कहा कि सरकारी लैब्स में आर0टी0पी0सी0आर0 के माध्यम से प्रतिदिन की जा रही 50 हजार से अधिक जांच यह दर्शाती है कि प्रदेश सरकार कोविड-19 की लड़ाई में पूरी तरह सक्रिय है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी के निर्देश पर नये टेस्टिंग लैब की स्थापना हो रही है। इसके लिए आवश्यक मशीनों की व्यवस्था की जा रही है।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि कोविड अस्पतालों में चिकित्सकगण नियमित अन्तराल पर राउण्ड लेते हुए मरीजों को चेक करें। उन्होंने कहा कि एम्बुलेंस सेवा को पूरी सक्रियता के साथ संचालित किया जाए। जनपद कानपुर नगर के कोविड अस्पतालों में बेड्स की संख्या में वृद्धि की जाए। जनपद प्रयागराज के कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का उपयोग कोविड-19 के सर्विलांस कार्य में किया जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा तथा यमुना एक्सप्रेस-वे प्राधिकरणों सहित उद्यमियों और निवेशकों से सम्बन्धित समस्त विभागों एवं सरकारी संस्थाओं के अधिकारी अपने कार्यालय में नियमित बैठकर उद्यमियों, निवेशकों तथा उद्योगपतियों से संवाद बनाएं और उनकी समस्याओं का निराकरण करें। उन्होंने अपर मुख्य सचिव कृषि को मण्डी शुल्क की दरों को कम करने के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश भी दिए।
श्री अवस्थी ने बताया कि ग्राम विकास एवं पंचायतीराज के अपर मुख्य सचिव द्वारा बताया गया है कि मनरेगा योजना के अन्तर्गत प्रदेश में दिनांक 11.09.2020 तक कुल 94,43,546 श्रमिकों/कामगारों को काम उपलब्ध कराए गए। उन्होंने बताया कि मनरेगा योजना के अन्तर्गत अभी तक कुल 4681.97 करोड़ रूपये की मजदूरी श्रमिकांे के बीच वितरित की गयी है। उन्होंने बताया कि योजना अन्तर्गत सर्वाधिक एक दिन में 62.25 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। प्रवासी मजदूरों में कुल 18.10 लाख अकुशल मजदूर है। सेक्टरवार प्रवासी मजदूरों की भी जानकारी दी गयी।  प्रवासी अकुशल मजदूर जो अभी तक मनरेगा योजना में कार्य किए हैं, उनकी संख्या 11,50,655 हैं। प्रवासी मजदूरों में 1,10,000 महिलाओं को स्वयं सहायता समूहों से जोड़ा गया है।
श्री अवस्थी ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा धारा-188 के तहत 2,22,160 एफआईआर दर्ज करते हुये 4,21,743 लोगों को नामजद किया गया है। प्रदेश में अब तक 1,49,98,470 वाहनांे की सघन चेकिंग में 71,324 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 77,65,45,314 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 4,36,055 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं। कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1233 लोगों के खिलाफ 916 एफआईआर दर्ज करते हुए 445 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। फेक न्यूज के तहत अब तक 2508 मामलों को संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गई है। 11 सितम्बर को कुल 18 मामले को संज्ञान में लिया गया हंै तथा साइबर सेल को आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित। 11 सितम्बर तक ट्विटर के 151, फेसबुक के 114, टिकटाॅक के 60 एवं व्हाटसएप के 01 एकाउण्ट (कुल 326 एकाउण्ट्स) को ब्लाॅक किया जा चुका है। अभी तक कुल 89 एफआईआर पंजीकृत कराई गई है। विभिन्न जनपदों में 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश के 20,363 कन्टेनमेंट जोन के 1,212 थानान्तर्गत, 16,20,450 मकानों के 93,31,127 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन कन्टेनमेंट जोन में कोरोना पाॅजिटिव लोगों की संख्या 51,466 है। इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाईन किये गये लोगों की संख्या 32,878 है। उन्होंने बताया कि परिवहन विभाग द्वारा जारी सूचना के अनुसार कल एक दिन में 7,196 बसों के माध्यम से 10 लाख 18 हजार लोगों ने यात्रा की।
  अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 1,50,652 सैम्पल की जांच की गयी, जो अब तक सर्वाधिक हैं उन्होंने बताया कि सरकारी प्रयोगशालाओं में आर0टी0पी0सी0आर0 के माध्यम से 50 हजार से अधिक जांच की गयी। जो देश में सर्वाधिक है, प्रदेश में अब तक कुल 72,17,980 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में विगत 24 घंटंे में कोरोना के संक्रमित 7103 नये मामले आये है तथा कल एक दिन में 5936 मरीज उपचारित हुए है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 67,321 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। प्रदेश में अब तक 2,27,442 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके। प्रदेश में पाजिविटी दर 4.14 प्रतिशत है जो देश के औसत दर 8.44 प्रतिशत से बहुत कम है। उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन में 34,920 लोग हैं। अब तक 1,44,147 होम आइसोलेशन में रह चुके हैं जिसमें से 1,09,227 लोग हो आइसोलेशन की अवधि पूर्ण कर स्वस्थ्य हो चुके है।
श्री प्रसाद ने बताया कि ई-संजीवनी के माध्यम से कल एक दिन 2153 लोगों ने चिकित्सीय परामर्श लिया है। अब तक कुल 70,409 लोगों ने ई-संजीवनी के माध्यम से चिकित्सीय परामर्श प्राप्त कर चुके है। उन्होंने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप द्वारा 10,62,965 लोगों को अलर्ट किया गया। इस पर स्वास्थ्य विभाग एवं सी0एम0 हेल्प लाइन के माध्यम से जानकारी प्राप्त की गयी। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा अब आॅन डिमाॅड टेस्ट की स्वीकृति भी दे दी गयी हैं यदि कोई व्यक्ति संक्रमित के संपर्क में रहा है तो वह अपनी जांच करा सकता है। यदि किसी व्यक्ति को बाहर जाने के लिए कोविड-19 निगेटिव टेस्ट प्रणाम पत्र के लिए अपनी जांच करा सकता है। एक से अधिक जगह पर जांच कराने के लिए एक ही पहचान पत्र की छायाप्रति देनी अनिवार्य होगी। उन्होंने बताया कि कोविड टेस्ट तथा निजी चिकित्सालयों की दरे निर्धारित कर दी गई है।
पुलिस महानिदेशक विजलेंस द्वारा बताया गया कि विगत कई दिनों से आर0टी0ओ0 कार्यालय शाहजहांपुर में व्याप्त भ्रष्टाचार एवं दलालांे का बोलबाला एवं कार्यों में आम नागरिकों को हो रही असुविधा की शिकायत निरंतर प्राप्त हो रही थी। सूचना के क्रम में छानबीन कराई गई एवं दिनांक 10 सितम्बर, 2020 को पुलिस अधीक्षक, उ0प्र0 सतर्कता अधिष्ठान, बरेली सेक्टर एवं लखनऊ की टीम तथा शाहजहाॅपुर पुलिस के पुलिस अधीक्षक नगर, नगर मजिस्ट्रेट तथा अन्य कर्मियों के साथ शाहजहांपुर आर0टी0ओ0 कार्यालय में दबिश डाली गयी तो वहां चल रहा दलालों का खेल उजागर हुआ। उन्होंने बताया कि दबिश के दौरान श्री ब्रजेश कुमार पुत्र श्री पन्ना लाल संम्भागीय निरीक्षक प्राविधिक, श्री प्रदीप शर्मा पुत्र श्री स्व0 तेजपाल शर्मा, प्रधान सहायक पंजीकरण एल0एम0वी0 तथा 18 दलाल मौके से गिरफ्तार किये गये। उनके पास से 04 लाख रूपये नकद, 14 मोबाइल फोन, 07 लैपटाॅप, 08 ड्राइविंग लाइसेंस, 46 आर0सी0 एवं अन्य संबधित कागजात को जब्त किया गया है।
इस प्रकरण में मुकदमा अपराध संख्या- 504/2020 धारा-419/420/120बी भा0दं0वि0 एवं 7 व 7ए भ्र0नि0अ0 थाना सिधौली जनपद शाहजहांपुर पर अभियोग पंजीकृत किया गया। उसी के अनुक्रम में 165 सी0आर0पी0सी0 के तहत जिलाधिकारी जनपद शाहजहांपुर/लखनऊ से स्वतंत्र गवाह प्राप्त करके अभियुक्त श्री प्रदीप शर्मा पुत्र श्री स्व0 श्री तेजपाल शर्मा, प्रधान सहायक पंजीकरण एल0एम0वी0 हाल निवासी सूर्या होटल कमरा नं0-3 स्थायी निवास एफ-2084 राजाजीपुरम लखनऊ एवं अभियुक्त श्री बृजेश कुमार पुत्र श्री पन्ना लाल, सम्भागीय निरीक्षक प्रविधिक हाल निवासी मो0 चुनौर थाना सदर बाजार, शाहजहांपुर के घर पर सर्च किया गया जहां से प्राप्त महत्वपूर्ण दस्तावेज एवं बैंक एकाउण्ट एवं अन्य दस्तावेज की गहराई से छानबीन की जा रही है।
इसी क्रम में घटना स्थल से बरामद कम्प्यूटर, मोबाइल एवं अन्य दस्तावेजों को फारेंसिक जांच हेतु एफ0एस0एल0 भेजने की कार्यवाही की जा रही है एवं रिपोर्ट के आधार पर तद्नुसार उनके विरूद्ध विवेचना की जाएगी। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार 20 अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में लेकर न्यायालय मं पेश किया गया तथा प्राप्त दस्तावेजों व अन्य साक्ष्यों की सन्निरीक्षा के पश्चात अभियुक्तगण को पुलिस कस्टडी में लेकर गहन पूछताछ की जाएगी एवं इस पूरे नेटवर्क में और कौन-कौन लोग संलिप्त है के सम्बन्ध में विवेचना करते हुए अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या