ऑल इण्डिया पायामे इंसानियत फोरम ने पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया


लखनऊ,ऑल इण्डिया पायामे इंसानियत फोरम लखनऊ यूनिट ने लखनऊ महानगर चौकी में कोरोना महामारी के दौरान अपनी जान की बाज़ी लगाकर भी अपने कर्तव्यों को पूरा करने वाले पुलिस कर्मियों ( कोरोना योद्धाओं ) के लिए एक सम्मान समारोह आयोजित किया और कोरोना काल में बेहतरीन काम के लिए पुलिसकर्मियों को सम्मानित भी किया ।  इस मौक़े पर सुश्री प्राची सिंह ( आई0 पी0 एस0) ने संस्था का धन्यवाद करते हुए कहा कि जिस वक्त पूरे देश के लोग कोरोना महामारी की वजह से अपने घरों में बंद था , उस वक़्त पुलिस डिपार्टमेंट के लोग अपनी जान की परवाह न करते हुए  अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद थे साथ ही कानून व्यवस्था भी बरकरार रखे हुए थे । आज भी जब सभी लोग अपनी सामान्य जीवन शैली की ओर लौट रहे हैं किसी ने अगर हमारे योगदान की ओर ध्यान दिया और हमारा धन्यवाद किया तो वो सिर्फ ऑल इंडिया पयाम-ए-इन्सानियत फोरम ही है। इस तरह के सम्मान से कार्यरत पुलिस कर्मियों का हौसला बढ़ता है । इस मौके पर उन्होंने संस्था के इस क़दम की तारीफ करते हुए आगे भी संस्था के साथ काम करने की इच्छा जताई । साथ ही पुलिस को करोना महामारी से लड़ने के लिये लोगों को मास्क और सेनिटाइज़र जाने पर भी धन्यवाद दिया । इसके बाद फोरम के सदस्य समाज सेवी शफीक चैधरी ने देश की जनता से इस महामारी से लड़ने के लिए सरकार के कंधे से कंधा मिलाकर लड़ने की अपील की साथ ही आपकी सेवा में तैनात कोरोना योद्धाओं खासकर पुलिसकर्मियों जो कि खुले में सबके बीच रह के आपकी सेवा कर रहे हैं उनका भी सहयोग करें । वहीं संस्था के मौलाना तौकीर नदवी इमाम ख़तीब मस्जिद हाई कोर्ट लखनऊ ने  अपनी और अपनों की हिफाज़त के लिए मास्क का इस्तेमाल और बिना ज़रूरत घर से बाहर न निकलने की भी अपील की । आपको बताते चलें कि ऑल इण्डिया पयामे इंसानियत फोरम लखनऊ लाक डाउन के बाद से लगातार लोगों की बड़े पैमाने पर इंसानियत के नाते मद्द करती रही है । उन्होंने बताया कि हजरत मौलाना अबुल हसन अली नदवी (अली मियां) द्वारा स्थापित ऑल इण्डिया पायामे इंसानियत फोरम जो कि एक गैर राजनीतिक समाज सेवी संस्था है जो कई वर्षों से इस दिशा में प्रयत्नशील है कि बिना किसी धार्मिक भेद भाव के समाज एंव देश में हो रहे नैतिक पतन को दूर करने तथा आपस में प्रेम और भाईचारा पैदा करने के लिए देश के प्रत्येक नागरिक को उसकी जिम्मेदारी का एहसास दिलाया जाये कि वह इस दिशा में जागरूक हो और अपना योगदान दे तथा इन्सानों के अन्दर से निकल चुकी इन्सानियत को एक बार पुनः जीवित किया जाय। संस्था ने हेड कांस्टेबल धीरेंद्र कुमार सिंह,हेड कांस्टेबल विनोद कुमार मिश्रा हेड कांस्टेबल संजय कुमार सिंह,हेड कांस्टेबल हरेंद्र प्रसाद ,आरक्षी सलिल सक्सेना ,आरक्षी अमित राणा ,आरक्षी शकील अहमद ,आरक्षी जीशान खान ,आरक्षी मोहित पांडे, महिला आरक्षी पूनम यादव ,हेड कांस्टेबल पुष्पराज शुक्ला कार्यालय सहायक पुलिस आयुक्त महानगर लखनऊ को सम्मानित किया तथा आगे भी हरसम्भव मदद का आश्वासन भी दिया ।



इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या