फेक न्यूज के अन्तर्गत अब तक 2441 मामलों में संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गयी-अवनीश कुमार अवस्थी

लखनऊ: 04 सितम्बर, 2020

  उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने आज यहां लोक भवन में प्रेस प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कि कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए डोर-टू-डोर सर्वे, काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग तथा मेडिकल टेस्टिंग के कार्य प्रभावी ढंग से संचालित किए जाएं। उन्होंने आई0सी0यू0 बेड्स की संख्या में वृद्धि के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये है कि कार्यालय समय से उपस्थित हो तथा कर्मचारियों की उपस्थिति समय से सुनिश्चित करायी जायें। उन्होंने निर्देश दिये है कि मण्डल स्तर पर मण्डलायुक्त एवं जिला स्तर पर जिलाधिकारी कार्यालय में समय से उपस्थित होकर आम जनता की समस्याओं का निराकरण समय से सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा है कि कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति के समुचित उपचार एवं जीवन रक्षा के लिए उसे शीघ्रता से अस्पताल पहुंचाना आवश्यक है। इसमें प्रभावी सर्विलांस की महत्वपूर्ण भूमिका पर बल देते हुए उन्होंने इस कार्य को तत्परतापूर्वक संचालित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन व्यक्तियों को बुखार व सांस लेने में परेशानी महसूस हो रही हो, वह तत्काल एम्बुलेंस बुलाकर व कंट्रोल संेटर पर फोन करके सरकारी चिकित्सालयों में भर्ती होकर अपना ईलाज करायें। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि जो भी संक्रमित मरीज अस्पताल में आता है उसका बेहतर ईलाज सुनिश्चित कराया जायें ताकि उनके जीवन को बचाया जा सकें।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि जनपद लखनऊ, कानपुर नगर, वाराणसी, प्रयागराज तथा गोरखपुर में कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए विशेष प्रयास किए जाएं। उन्होंने अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा को कल 05 सितम्बर, 2020 को कानपुर नगर जाकर मौके पर जनपद की चिकित्सा व्यवस्था की समीक्षा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य तथा अपर मुख्य सचिव पंचायतीराज एवं ग्राम्य विकास जनपद लखनऊ की स्थिति की समीक्षा करें। लखनऊ की टीम के साथ कुलपति, के0जी0एम0यू0 तथा निदेशक, एस0जी0पी0जी0आई0 भी रहें। उन्हांेने कहा है कि जनपद कानपुर नगर तथा लखनऊ में प्रत्येक दशा में संक्रमण का प्रसार नियंत्रित किया जाए। इसके लिए समीक्षा करके कमियां चिन्हित करते हुए उनका निराकरण कराया जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी 07 सितम्बर को  लखनऊ में नये कोविड अस्पताल का उद्घाटन करेंगे तथा इसी क्रम में उसी दिन गोरखपुर में भी शुभारम्भ करेंगे। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिए है कि जनपद कानपुर नगर की समीक्षा करने वाली टीम 06 सितम्बर, 2020 को जनपद प्रयागराज जाकर स्थिति की समीक्षा करे और कमियों को दूर कराए। उन्होंने कहा कि कारागारों में कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। जेल कर्मियों की भी नियमित जांच की जाए। कैदियों को जेल भेजने से पहले अस्थायी जेल में रखा जाए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने पुलिस महानिदेशक, कारागार श्री आनन्द कुमार को निर्देश दिये है कि जेलों में नो-टच पाॅलिसी लागू करें तथा बाहर से आने-जाने वालों कैदियों एवं कर्मियों का कोविड परीक्षण सुनिश्चित अवश्य करायें। यह व्यवस्था प्रदेश के सभी 63 जेलों में लागू करायी जायें।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि कोविड-19 के दृष्टिगत सचिवालय में प्रवेश हेतु अनावश्यक पास निर्गत न किए जाएं। सचिवालय के प्रवेश पास निर्गत करने की व्यवस्था को सख्त बनाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा है कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सचिवालय में प्रमाणित व्यक्तियों का ही प्रवेश हो। उन्होंने पान, गुटका पर लागू प्रतिबन्ध का सचिवालय परिसर में कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा है कि त्वरित निर्णय लेकर कार्यों का निस्तारण किया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी पत्रावली किसी भी दशा में 07 दिन से अधिक लम्बित न रहे। उन्होंने निदेशालयों का नियमित निरीक्षण करने तथा समय से कार्यालयों में उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश दिये हैं।
श्री अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री जी ने कहा है कि विपरीत परिस्थितियों के बावजूद जी0एस0टी0 के अन्तर्गत बेहतर राजस्व संग्रह हुआ है। उन्होंने बताया कि प्रदेश की गरीब कल्याण योजना को सुनिश्चित करने के लिए जी0एस0टी0 संग्रह में वृद्धि के लिए विशेष प्रयास करने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा है कि इस सम्बन्ध में विशेष अभियान चला कर व्यापारियों के रजिस्ट्रेशन बढ़ाने पर जोर दिया जाए। व्यापारियों को जी0एस0टी0 रिटर्न भरने के लिए प्रशिक्षित भी किया जाए। बुनकरों की समस्याओं का व्यावहारिक समाधान सुनिश्चित किए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में एक ठोस कार्ययोजना तैयार कर प्रस्तुत की जाए।
श्री अवस्थी ने बताया कि प्रधानमंत्री जी के नेशन एवं न्यूट्रीशन का बहुत गहरा संबंध है। इसके संबंध में मुख्यमंत्री जी के न्यूट्रीशन मिशन की समीक्षा आज की हैं। उन्होंने बताया कि 01 सितम्बर से 30 सितम्बर तक पोषण माह 2020 को प्रदेश में बहुत मजबूती से चलाने का निर्देश मुख्यमंत्री जी ने दिया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने निर्देश दिये है कि पोषण माह के दौरान कुपोषित तथा अतिकुपोषित बच्चों का विशेष ध्यान दिया जायें। इसके संबंध में उन्होंने पोषण वाटिका की स्थापना करने के भी निर्देश दिये है। उन्होंने बताया कि एक व्यापकजन अभियान चलाकर आमजन में जागरूकता लायी जायें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने पोषण माह की रिपोर्टिंग को भी भारत सरकार के पोर्टल पर समय से अपलोड करने के निर्देश दिये है।
 श्री अवस्थी ने बताया कि पुलिस विभाग द्वारा की गयी कार्यवाही में अब तक धारा 188 के तहत 2,15,971 लोगों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज की गई। प्रदेश में अब तक 1,43,47,419 वाहनांे की सघन चेकिंग में 70,690 वाहन सीज किये गये। चेकिंग अभियान के दौरान 74,28,44,809 रूपए का शमन शुल्क वसूल किया गया। आवश्यक सेवाओं हेतु कुल 4,34,587 वाहनों के परमिट जारी किये गये हैं। उन्होंने बताया कि कालाबाजारी एवं जमाखोरी करने वाले 1214 लोगों के खिलाफ 897 एफआईआर दर्ज करते हुए 430 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। फेक न्यूज के अन्तर्गत अब तक 2441 मामलों में संज्ञान में लेते हुए कार्यवाही की गयी है। उन्होंने बताया कि अब तक प्रदेश में 89 एफआईआर दर्ज करते हुए 26 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश के कन्टेनमेंट जोन में 88,74,082 लोगों को चिन्हित किया गया है। इन कन्टेनमेंट जोन में कोरोनो पाॅजीटिव लोगों की संख्या 43,734 तथा इन्टीट्यूशल क्वारंटीन किये गये लोगों की संख्या 35,505 है। प्रदेश में हाॅटस्पाॅट वाले बस्तियों की अनुमानित जनसंख्या 83,66,924 के सापेक्ष 16,598 डोर स्टेप डिलिवरी मिल्क बूथ/मैन के द्वारा दूध वितरित किया गया है। कोविड-19 के सम्बंध में राहत आयुक्त कार्यालय में राज्य स्तर पर स्थापित एकीकृत आपदा नियंत्रण केन्द्र के टोल फ्री हेल्पलाइन नं0-1070 पर प्राप्त 1,19,983 काॅल्स में से 1,19,559 का निस्तारण किया गया है।
अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्री अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 टेस्टिंग का कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्रदेश में कल एक दिन में 1,46,601 सैम्पल की जांच की गयी। प्रदेश में अब तक कुल 61,96,994 सैम्पल की जांच की गयी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में विगत 24 घंटंे में कोरोना के 6,193 नये मामले आये है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 58,595 कोरोना के एक्टिव मामले हैं, जिसमें 30,084 लोग होम आइसोलेशन में है। प्रदेश में अब तक 1,90,818 मरीज पूरी तरह से उपचारित हो चुके है, प्रदेश में रिकवरी का प्रतिशत 75.73 प्रतिशत है। अब तक कुल 1,15,194 लोग होम आइसोलेशन में थे, जिनमें 85,110 लोग होम आइसोलेशन की अवधि पूर्ण कर चुके है और वह स्वस्थ्य है। प्रदेश में सर्विलांस टीम के माध्यम से 87,569 क्षेत्रों में 3,15,536 टीम के माध्यम से 2,12,78,121 घरों के 10,64,97,749 लोगों का सर्वेक्षण किया गया है। उन्होंने बताया कि पूल टेस्ट के अन्तर्गत कल 3579 पूल की जांच की गयी, जिसमें 3283 पूल 5-5 सैम्पल के तथा 296 पूल 10-10 सैम्पल की जांच की गयी। जबकि आयु वर्ग के अनुसार 0-20 आयु वर्ग के 14.12 प्रतिशत, 21-40 आयु वर्ग के 48.70 प्रतिशत, 41-60 आयु वर्ग के 28.50 प्रतिशत तथा 60 वर्ष के अधिक आयु वर्ग के 8.68 प्रतिशत लोग संक्रमित पाये गये है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या