श मा0 राष्ट्रीय हरित अधिकरण, नई दिल्ली के समक्ष विचाराधीन वाद की पैरवी हेतु मुख्य अभियन्ता (सोन) सिंचाई विभाग वाराणसी नोडल अधिकारी नामित


लखनऊः 29 सितंबर 2020
 
मा0 राष्ट्रीय हरित अधिकरण, नई दिल्ली में विचाराधीन वाद अश्विनी कुमार दुबे बनाम यूनियन आॅफ इण्डिया एवं अन्य के सम्बन्ध में की पैरोकारी करने के लिए मुख्य अभियन्ता (सोन) सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग, उत्तर प्रदेश वाराणसी को नोडल अधिकारी के रूप में नामित किया गया है। यह जानकारी विशेष सचिव सिंचाई, श्री मुश्ताक अहमद ने दी।
यह वाद जनपद सोनभद्र के थर्मल पावर प्लांट से उत्पन्न होने वाली प्रदूषण से सम्बन्धित है। इस मुकदमें में सी0पी0सी0बी0 द्वारा पेश कि गई रिपोर्ट में रिहन्द जलाशय के डिसिल्टिंग/पुनस्र्थापना, पानी की गुणवत्ता एवं जलाशय की क्षमता के अनुरक्षण के संबंध में बिन्दु उठाये गये हैं।
इसमें सिंचाई विभाग का पक्ष प्रस्तुत किया जाना है। यह प्रकरण मुख्य अभियन्ता (सोन) सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग उ0प्र0 वाराणसी से संबंधित है। इसलिए मुख्य अभियन्ता (सोन) सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग उ0प्र0 वाराणसी को पैरवी हेतु नोडल अधिकारी नामित किया गया है।
इस मामले में नोडल अधिकारी द्वारा समय-समय पर भविष्य में आयोजित की जाने वाली बैठकों में प्रतिभाग किया जायेगा। इसके अलावा नोडल अधिकारी मा0 हरित अधिकरण द्वारा दिए गए आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित करेंगे तथा इससे संबंधित बैठकों में शासन का प्रतिनिधित्व करेंगे तथा कृत कार्यवाही की अद्यतन सूचना शासन को उपलब्ध करायेंगे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या