तीन चरणों में होगा बिहार विधानसभा का चुनाव: चुनाव आयोग

पहला चरण : 16 जिले 71 सीट
दूसरा चरण : 17 जिले 94 सीट
तीसरा चरण : 15 जिले 78 सीट


बिहार में पहले चरण के मतदान 28 अक्टूबर को होंगे। दूसरे चरण के मतदान 3 नवंबर को होंगे। तीसरे चरण के मतदान 7 नवंबर को होंगे और मतगणना 10 नवंबर को होगी: सुनील अरोड़ा, 


चुनाव आयोग ने बताया कोरोना के बावजूद क्यों करा रहे बिहार चुनाव


बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान चुनाव आयोग कर रहा है. कोरोना के बीच चुनाव कराने के सवाल का जवाब देते हुए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि 17 से ज्यादा देशों ने चुनाव टाले, लेकिन हमने सोचा कि जनता के लोकतांत्रिक अधिकार को बरकरार रखने के लिए सेहत और लोकतंत्र के बीच संतुलन बनाने के लिए जरूरी है. सेफ्टी नॉर्म्स के साथ चुनाव भी हों. तभी राज्यसभा के चुनाव कराए गए.
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार में कुल 243 सीटों पर चुनाव होगा, राज्य में 29 नवंबर तक विधानसभा का कार्यकाल है. इस बार पोलिंग स्टेशन की संख्या और मैनपावर को बढ़ाया गया है. बिहार में 2020 के चुनाव में सात करोड़ से अधिक वोटर मतदान करेंगे. इस बार एक बूथ पर सिर्फ एक हजार ही मतदाता होंगे. 
चुनाव आयोग ने कहा कि इस बार चुनाव में 6 लाख पीपीई किट राज्य चुनाव आयोग को दी जाएंगी, 46 लाख मास्क का इस्तेमाल भी होगा. सात लाख हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल किया जाएगा, साथ ही 6 लाख फेस शील्ड को उपयोग में लाया जाएगा. 18 लाख से अधिक प्रवासी मजदूर हैं, इनमें से 16 लाख वोट डाल सकते हैं.
मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने कहा कि इस बार वोट डालने के लिए एक घंटे का अधिक वक्त रखा गया है. सुबह सात से शाम 6 बजे तक मतदान होगा, लेकिन नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में ऐसा नहीं होगा. डूर-टू-डूर कैंपेन में सिर्फ पांच लोग ही जा सकेंगे. इस बार नामांकन और हलफनामा ऑनलाइन भी भरा जाएगा, डिपोजिट को भी ऑनलाइन सबमिट किया जा सकेगा.


चुनाव आयोग ने कहा कि नामांकन के वक्त उम्मीदवार के साथ सिर्फ दो लोग मौजूद रहेंगे. प्रचार के दौरान किसी से हाथ मिलाने की इजाजत नहीं होगी. चुनाव प्रचार सिर्फ वर्चुअल होगा. 


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या