उ0प्र0 कांग्रेस सेवादल के प्रदेश पदाधिकारियों एवं जोनल अध्यक्षों की एक अति महत्वपूर्ण बैठक

लखनऊ 21 सितम्बर।


उ0प्र0 कांग्रेस सेवादल के प्रदेश पदाधिकारियों एवं जोनल अध्यक्षों की एक अति महत्वपूर्ण बैठक आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष डा0 प्रमोद कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में शिक्षा नीति एवं कृषि विधेयक का व्यापक विरोध करने का निर्णय लिया गया। इसी क्रम में 6 महत्वपूर्ण समितियों का गठन भी किया गया।      1. शिक्षा सेवा समिति-डा0 दीप्ति सिंह को संयोजक, 2. स्वास्थ्य सेवा समिति- श्री विशाल वशिष्ट को संयोजक, 3. ग्रामीण सेवा समिति-श्री शैलेन्द्र पाण्डेय को संयोजक, 4.आपदा प्रबन्धन समिति- श्री वारिस अली को संयोजक, 5. सामाजिक सुरक्षा समिति- सुश्री मीनल शलभ गौतम को संयोजक, 6. पर्यावरण सुरक्षा समिति -श्री सतीश शर्मा को संयोजक नियुक्त किया गया।


यह जानकारी देते हुए उ0प्र0 कांग्रेस सेवादल मध्य जोन के अध्यक्ष राजेश सिंह काली ने बताया कि अपने सम्बोधन में डा0 प्रमोद कुमार पाण्डेय ने केन्द्र सरकार पर यह आरोप लगाते हुए कहा कि एक तरफ सरकार रोजगार नहीं दे पा रही है इसीलिए शिक्षा की ऐसी नीति बनाई है कि आम गरीब विद्यार्थी शिक्षा ग्रहण न कर सके। दूसरी तरफ कृषि नीति जो केन्द्र सरकार ने लागू की है उससे किसानों का सिर्फ उत्पीड़न बढ़ेगा और वह सिर्फ अपने खेत में मजदूर बनकर रह जायेगा। इन दोनों विधेयकों को लेकर आज गंभीर गहन चिंतन और मनन के बाद जोरदार विरोध करने का निर्णय उ0प्र0 कांग्रेस सेवादल ने लिया है। इसकी शुरूआत आगामी 05 सितम्बर शिक्षक दिवस के दिन नई शिक्षा नीति की प्रतिलिपि जलाकर हो चुकी है।


बैठक में प्रमुख रूप से सर्वश्री करूणेश राठौर, शर्मानन्द मिश्र, सुशील तिवारी सोनू पंडित, अनिल देव त्यागी, हसीना खातून, संजीव सिंह, हिमांशु धर द्विवेदी, राजमणि शुक्ला सहित प्रदेश के सभी पदाधिकारी एवं जोनल अध्यक्षगण मौजूद रहे।

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या