उप्र सरकार ने शराब कारोबारियों को त्रैमासिक कोटा उठान में छूट दी

लखनऊ: 24 सितम्बर, 2020,प्रदेश सरकार के द्वारा लॉकडाउन मैं परेशान शराब कारोबारियों को निर्धारित मासिक कोटा उठान की अनिवार्यता को खत्म किए जाने की एक बड़ी राहत दी है शराब विक्रेता वेलफेयर एसोसिएशन ने राज्य सरकार के इस निर्णय का स्वागत किया है एसोसिएशन के महामंत्री कन्हैयालाल मौर्या मीडिया प्रभारी देवेश जयसवाल ने बताया प्रदेश में घोषित लॉकडाउन में शराब की बिक्री अत्याधिक प्रभावित थी तथा लोगों को निर्धारित कोठा उठाने में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था इस समस्याओं को एसोसिएशन ने उच्च अधिकारियों तथा आबकारी मंत्री को भी अवगत कराया था।
 प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्यनाथ तथा आबकारी मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री आबकारी सचिव संजय भूसरेड्डी तथा आबकारी आयुक्त पी गुरु प्रसाद जी का आभार व्यक्त किया है । मौर्य ने बताया आबकारी नीति 2020 21 के  प्रावधानों के तहत लॉकडाउन में शराब की दुकानों के फुटकर कारोबारियों को प्रदेश सरकार ने उनकी समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए उन्हें त्रैमासिक  कोटे की उठान में छूट दी गई है तथा अब  बिना  किसी दंड के और जुर्माना के बगैर शराब कारोबारी दिसंबर माह के अंदर पूरी उठान कर सकेंगे शराब कारोबारियों के लिए एक बहुत बड़ी मोहलत है तथा शराब की दुकानों में पीओएस मशीन लगाने के निर्णय का भी स्वागत किया है इससे ग्राहकों को गुणवंता तथा शुद्ध शराब उपलब्ध हो सकेगी शराब कारोबारियों में सरदार एसपी सिंह कन्हैयालाल मौर्या , नीरज जयसवाल , शिव कुमार जयसवाल जय जयसवाल , संजय जयसवाल , मनोज रावत , शंकर कनौजिया , दीपक जायसवाल , राम शंकर मिश्रा , विकास मोहन श्रीवास्तव तथा देवेश जयसवाल ने भी खुशी जाहिर की।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या