वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई में आर्थिक गतिविधियों के बेहतर होने का सिलसिला अगस्त, 2020 में भी जारी-सुरेश कुमार खन्ना

लखनऊ: 03 सितम्बर, 2020

 

उत्तर प्रदेश के वित्त, संसदीय कार्य एवं चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश कुमार खन्ना ने आज यहां विधानसभा स्थित अपने कार्यालय कक्ष में मीडिया प्रतिनिधियों से वार्ता करते हुए कहा कि आर्थिक गतिविधियों को पटरी पर लाते हुए पूर्व की भांति तेजी से संचालित किया जा रहा है। वर्तमान वित्तीय वर्ष के माह जुलाई में आर्थिक गतिविधियों के बेहतर होने का सिलसिला अगस्त, 2020 में भी जारी रहा और राजस्व का संग्रह भी बढ़ा है। उन्होंने कहा कि अगस्त, 2019 के सापेक्ष अगस्त, 2020 में प्रदेश सरकार के राजस्व में 600 करोड़ रुपये से अधिक की वृद्धि हुई है। अगस्त, 2019 में विभिन्न मदों के अन्तर्गत 8942.76 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। अगस्त, 2020 में इन मदों में कुल 9545.21 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआ।

वित्त मंत्री ने कहा कि जी0एस0टी0/वैट के तहत अगस्त, 2019 में 5126.56 करोड़ रुपये की प्राप्ति हुई थी। अगस्त, 2020 में इस मद में राजस्व संग्रह बढ़कर 5329.58 करोड़ रुपये हो गया है। माह अगस्त, 2020 में जी0एस0टी0 के तहत 3497.98 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रह हुआ है। इसमें एस0जी0एस0टी0 से प्राप्त 1659.81 करोड़ रुपये तथा आई0जी0एस0टी0 से प्राप्त 1838.17 करोड़ रुपये का राजस्व सम्मिलित है।

वित्त मंत्री ने कहा कि वैट के अन्तर्गत जहां अगस्त, 2019 में 1604.26 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था, अगस्त, 2020 में इस मद में राजस्व संग्रह बढ़कर 1831.60 करोड़ रुपये हो गया है। इसी प्रकार, आबकारी के अन्तर्गत अगस्त, 2019 में 1882.33 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआ था। अगस्त, 2020 में इस मद में बढ़ोत्तरी दर्ज करते हुए 2310.27 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है। भू-तत्व एवं खनिकर्म में अगस्त, 2019 में 109.56 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था। अगस्त, 2020 में इस मद में 171.53 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति हुई, जो कि अगस्त, 2019 में संग्रहीत राशि से अधिक है। उन्होंने यह जानकारी भी दी कि अगस्त, 2020 में स्टाम्प तथा निबन्धन में 1301.92 करोड़ रुपये तथा परिवहन मद में 431.91 करोड़ रुपये का राजस्व संग्रहीत हुआ।

श्री सुरेश कुमार खन्ना ने कहा कि भारत सरकार द्वारा अनलॉक-4 के संबंध में जारी गाइडलाइन के क्रम में प्रदेश सरकार द्वारा भी अनलॉक-4 की गाइडलाइन जारी कर दी गई है।उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा प्रतिदिन टीम-11 की बैठक के माध्यम से स्थिति का जायजा लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार का उद्देश्य है कि हर मरीज को कम से कम समय में हॉस्पिटल पहुंचा कर त्वरित इलाज कराया जाए।प्रदेश में कोरोना की स्थिति पर नियंत्रण के लिए इस समय प्रतिदिन लगभग 1.40 से 1.50 लाख तक टेस्ट किए जा रहे हैं, जो कि देश में टेस्टिंग फैसिलिटी के मामले में सर्वाधिक है। उन्होंने बताया कि कल तक प्रदेश में 59,13,584 टेस्ट किए गए हैं जो देश में सर्वाधिक हैं।

सम्पर्क सूत्र: 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या