विश्व गिद्ध दिवस पर जागरूकता कार्यक्रम करेगा मानव आर्गेनाईजेशन

पर्यावरण संरक्षण के लिए डेढ़ दशक से कार्यरत है संस्था



ललितपुर। 
प्रत्येक वर्ष सितंबर महीने का पहला शनिवार अंतर्राष्ट्रीय गिद्ध जागरूकता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष मानव ऑर्गनाइजेशन, भारतीय जैव विविधता संस्थान एवं उत्तर प्रदेश भारत स्काउट एंड गाइड 5 सितम्बर को संयुक्त रूप गिद्ध संरक्षण वर्चुअल कार्यक्रम चलाएगी। संस्था के संयोजक पर्यावरणविद् पुष्पेन्द्र सिंह चौहान ने जानकारी दी कि अंधाधुंध शहरीकरण ने बहुत से जीवों को खत्म होने के कगार पर पहुंचा दिया है। पिछले 15 वर्षों में, देश की गिद्ध आबादी में 99 प्रतिशत की गिरावट आई है। वर्तमान में भारत में लगभग 100,000 गिद्ध बचे हैं, जबकि 1980 के दशक में इनकी संख्या 4 अरब के करीब थी। इनकी जनसंख्या में गिरावट के पीछे मानव की मृत्यु और भोजन की अनुपलब्धता प्रमुख कारण है। गिद्ध की कुछ संरक्षित प्रजातियों को भी अब विलुप्त होने का सामना करना पड़ रहा है। ललितपुर जनपद के देवगढ़ में उत्तर प्रदेश का पहला गिद्ध संरक्षण केंद्र खोला गया था। गिद्ध संरक्षण के लिए मानव ऑर्गनाइजेशन उत्तर प्रदेश, भारतीय जैव विविधता संस्थान झांसी,उत्तर प्रदेश भारत स्काउट एंड गाइड ललितपुर संयुक्त रूप से वर्चुअल जागरूकता अभियान चलाएगी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या