यूपी के बच्चों को एन सी आर टी पाठ्यक्रम के अनुरूप शिक्षा देने का मुख्यमंत्री योगी का अहम फैसला

योगी सरकार में डीजी ( बेसिक) विजय किरण आंनद ने किए यूपी में स्कूल शिक्षा में गुणात्मक सुधार
यूपी में 2017 में सत्ता परिवर्तन के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जब बच्चों की स्कूल शिक्षा की ओर ध्यान दिया तो उन्होंने तत्काल बेसिक और जू0 हाईस्कूल स्तर की शिक्षा व्यवस्था के ठोस कदम उठाते हुए एक नया पद महानिदेशक स्कूल शिक्षा का सृजित किया, इस पद के सृजन के बाद तलाश हुई एक ऐसे योग्य अफसर की जो प्रदेश में पटरी से उतरी हुई शिक्षा व्यवस्था को संभाल सके तब मुख्यमंत्री ने महाकुंभ का सफल आयोजन कराने वाले  युवा आईएएस अफसर विजय किरण आनंद पर भरोसा जताया  और श्री आनंद प्रदेश के पहले महानिदेशक स्कूल शिक्षा नियुक्त किये गए, महानिदेशक बनने के बाद श्री आनंद ने अपनी पूरी क्षमता  स्कूल शिक्षा को सुधारने में लगा दी,प्रदेश के कक्षा 1से 8 तक बच्चों को भी राष्ट्रीय स्तर की NCERT के पाठ्यक्रम के अनुरूप शिक्षा मिले इसके लिए श्री आनंद ने कार्ययोजना तैयार कर क्रमबद्ध ढंग से इसे लागू करवाया करवाया,इसी का परिणाम है कि प्रदेश में अब अगले बर्ष कक्षा 1 फिर अगले बर्ष कक्षा 2एवं3 फिर 4एवं5 एवं उसके बाद कक्षा 6से 8 तक के बच्चों को क्रमबद्ध तरीके से NCERT के पाठ्यक्रम के अनुरूप पढ़ाई कराई जाएगी,सिर्फ यही नही श्री आनंद ने महानिदेशक बनने के बाद इस विभाग में जिस तरह भ्र्ष्टाचार मुक्त कार्यप्रणाली विकसित की है उसकी तारीफ हर तरफ हो रही है,अब जहां बेसिक शिक्षा की पाठ्यपुस्तकों की गुणवत्ता में तुलनात्मक सुधार हुआ है वही समय से पाठ्यपुस्तकें प्रकाशित हो रही हैं।इस पूरी सुधारात्मक प्रक्रिया में श्री आनंद के अलावा प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा और बेसिक शिक्षा मंत्री का योगदान भी महत्वपूर्ण है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या