आॅनलाइन व्याख्यान मालाओं, निबंध, स्लोगन, पोस्टर प्रतियोगिताओं के आयोजन हुए

लखनऊ: 21 अक्टूबर, 2020

प्रदेश में व्यापक व सघन अभियान के रूप में चल रहे मिशन शक्ति कार्यक्रम के अंतर्गत विश्वविद्यालयों, राजकीय महाविद्यालयों, अशासकीय सहायता प्राप्त महाविद्यालयों एवं स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों में शासन की मंशा के अनुरूप संपादित होने वाले क्रियाकलापों की श्रृंख्ला में छात्र-छात्राओं व अभिभावकों की सम्मिलित सहभागिता के परिणाम स्वरूप मिशन शक्ति कार्यक्रम अपने लक्षित उद्देश्यों की प्राप्ति की दिशा में त्वरित रूप से अग्रसर हो रहा है। इस कार्यक्रम के अंतर्गत पूर्व दिवसों की भांति अभिभावकों एवं छात्र-छात्राओं द्वारा ली जाने वाली शपथ का कार्यक्रम संपन्न हो रहा है। जिसमें अभिभावकों द्वारा पुत्र-पुत्री के मध्य भेद न करते हुये संतानों को नैतिक मूल्य से संपृक्त व अनुशासित करने की प्रतिज्ञा एवं छात्रों द्वारा नारी सुरक्षा, सम्मान व अवसर के प्रति सर्वतोभावेन प्रतिबद्धता की शपथ लेने का क्रम जारी है। आॅनलाइन व्याख्यान मालाओं, निबंध, स्लोगन, पोस्टर प्रतियोगिताओं के आयोजन हुए है। जिनके विषय महिला सुरक्षा, महिला स्वास्थ्य व पोषण लैंगिक समानता इत्यादि रहे। आत्मरक्षा हेतु आॅनलाइन मार्शल आर्ट का धारावाहिक प्रशिक्षण कार्यक्रम भी संपन्न हुआ। मनोवैज्ञानिक परामर्श कार्यक्रमों में अनेकानेक छात्राओं को लाभान्वित होने का अवसर मिला है।
बालिकाओं के पोषण व प्रतिरोधक क्षमता के विकास हेतु व्याख्यान के अतिरिक्त योग, व्यायाम, दैनिक आहार व हाईजीन के संबंध में जागरूकता संबंधी कार्यक्रम भी समानान्तर रूप से प्रवाहमान हैं। इन सभी क्रियाकलापों में विश्वविद्यालयों व महा विद्यालयों की राष्ट्रीय सेवा योजना, रोवर्स-रेंजर्स, नेशनल कैडिट कोर के प्रभारियों एवं कार्यकर्ताओं सहित शारीरिक शिक्षा विभाग के प्राध्यापकों ने उल्लेखनीय भूमिका का निर्वहन किया है। इन प्रयासों को स्थानीय स्तर पर विश्वविद्यालय व महाविद्यालय के आसपास के परिक्षेत्रों में फलीभूत होते देखा जा सकता है।
इन समस्त क्रियाकलापों का निदेशक, उच्च शिक्षा, विश्वविद्यालयों के कुलपति, कुलसचिव, विभिन्न क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारी, महाविद्यालयों के प्राचार्य सतत निगरानी व मार्गदर्शन प्रदान कर रहे हैं जिनकों माननीय उप मुख्यमंत्री एवं अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा द्वारा अवलोकित व समीक्षित किया जा रहा है। प्रत्येक स्तर पर उत्तदायित्व विनिश्चयन से कार्याें को गति व लक्ष्य प्राप्ति की परिस्थिति निर्मित हो रही है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?