अब बैंक ने भी धन जमा व निकासी पर चार्ज लगाना किया शुरू , जानिये इन नये बैंक नियमो को

अब बैंक ने भी धन जमा व निकासी पर चार्ज लगाना किया शुरू , जानिये इन नये बैंक नियमो को


बैंकों में अब पैसे निकासी व जमा करने पर भी लगेगा चार्ज
बैंकों में अब अपना पैसा जमा करने और निकालने के लिए भी चार्ज देना पड़ेगा. बैंक ऑफ बड़ौदा ने इसकी शुरुआत भी कर दी है. अगले महीने से तय सीमा से ज्यादा बैंकिंग करने पर अलग से शुल्क लगेगा. इस पर बैंक ऑफ इंडिया, पीएनबी, इंडियन बैंक और सेंट्रल बैंक भी जल्द फैसला लेंगे.


इस बात की जानकारी ऑल इंडिया बैंक ऑफिसर एसोसिएशन के संयुक्त सचिव डीएन त्रिवेदी ने बुधवार को दी.


जमा-निकासी के अलग-अलग शुल्क निर्धारित


उन्होंने बताया कि बैंक ऑफ बड़ौदा ने चालू खाता, कैश क्रेडिट लिमिट और ओवर ड्राफ्ट अकाउंट से जमा-निकासी के अलग और बचत खाते से जमा-निकासी के अलग-अलग शुल्क निर्धारित किये हैं. लोन अकाउंट के लिए महीने में तीन बार के बाद जितनी बार ज्यादा पैसा निकालेंगे, 150 रुपये हर बार देने पड़ेंगे.


पैसे जमा करने पर भी अब लगेंगे शुल्क, वरिष्ठ नागरिकों को भी कोई राहत नहीं


बचत खाते में तीन बार तक जमा करना मुफ्त होगा, लेकिन चौथी बार जमा किया तो 40 रुपये देने होंगे. वरिष्ठ नागरिकों को भी बैंकों ने कोई राहत नहीं दी है. उन्होंने बताया कि यूनियन ने इस तुगलकी फरमान का विरोध किया है और जनहित में आदेश को वापस लेने की मांग की है.


चत खाताधारकों के लिए


- महीने में तीन बार तक जमा व निकासी निशुल्क


- चौथी बार जमा करने पर 40 रुपया शुल्क


- चौथी बार से पैसा निकासी 100 रुपया शुल्क


- वरिष्ठ नागरिकों को कोई छूट नहीं


- जनधन खाताधारकों को जमा करने पर कोई शुल्क नहीं देगा होगा, लेकिन निकालने पर 100 रुपये देने होंगे


ऋण खाता, कैश क्रेडिट, चालू खाता और ओवरड्राफ्ट खातों के लिए


- एक दिन में एक लाख तक जमा नि:शुल्क


- एक लाख से ज्यादा होने पर एक हजार रुपये पर एक रुपए चार्ज (न्यूनतम 50 रुपये और अधिकतम 20 हजार रुपये)


- एक महीने में तीन बार पैसा निकासी पर कोई शुल्क नहीं


- चौथी बार से 150 रुपये प्रत्येक निकासी पर


जागरूकता के लिए शेयर अवश्य करें


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या