बिकास की बाते बेईमानी

प्रदेश  में विकास और सुशाषन की सरकार बने कई साल हो गये इसके बाद भी क्षेत्र
का बिकास नहीं होने  के कारन पूर्व मुख्यमंत्री और क्षेत्र के विधायक दवरा
क्षेत्र वाशियो के दिखाए गए सपने चूर चूर होने लगे।
                     वर्ष 2015 में ही जद यु की  सरकार बानी थी  दिनारा
 विधान सभा सीट से जद  यू के प्रत्याशी और प्रदेश निर्वर्तमान मुख्यमंत्री
नितीश कुमार के करीब कहे जाने वाले  जय कुमार सिंह चुनाव जीते थे तो लोगो को
लगा की हमारे क्षेत्र का विकास होना लगभग तय है लोगो को बिकास की उमीद बंधी
जबकि चुनावी सभा दिनारा   में ही नीतीश कुमार  ने अपने संबोधन में विकास का
अस्वासन दिया गया लेकिन अस्वासन  केवल कोरा ही साबित हुआ चुनाव के पहले इस
क्षेत्र में बिजली ,पानी ,सड़क आदि की  ठोस ब्वस्था कागजो पर ही सिमट कर रह
गया। जय कुमार सिंह के चुनावी सभा में पूर्व मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र के
पिछड़ेपन  खूब रोना रोया  लेकिन उस समय चुनाव आचार सहिंता के कारण कोई घोषणा
करने में असमर्थता जाहिर की तो लोगो को लगा को चुनाव जितने के बाद क्षेत्र के
विकास के लिए कोई विशेष पैकेज देंगे लेकिन चुनाव बीते कई साल होगये
तत्कालीन  मुख्यमंत्री ने इस क्षेत्र का दो बार यात्रा भी की लेकिन विकास का
कोई कार्य नहीं किया गया ,लोगो का कहना है की ये महज चुनावी सम्बोधन था और कुछ
भी नहीं " ये वही  बात हो गई जब कोई प्रेमी रूठ  जाये  तो उसे चाँद देने की
बात कह कर मनाया जाये जब मान जाये तो खुद ही समझ जाये की चाँद तो आसमान में है
'
                                गौरतलब हो की दिनारा  क्षेत्र काफी फैला हुआ
है रोहतास जिले के सबसे बड़ा प्रखंड होने गौरव प्राप्त है दर्जनो गाव ऐसे है
जहा जहा मुख्यमार्ग तो दूर इस मार्ग को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग तक भी नहीं है
नहीं बिजली की समुचित बवस्था न स्वास्थ  सेवाएं की ठोस बवस्था  है
     इस क्षेत्र में शासकीय सहायता प्राप्त डिग्री कालेज ,रोडवेज बस स्टैंड
 राजकीय कन्या इंटर कालेज श्रम पर आधारित कोई उधोग ,तकनीकी प्रशिक्षण संस्था
की आवश्कयता काफी लम्बे समय से महसूस की जारही है ,लेकिन ये कमी शायद ही पूरी
हो सके इस बिधान सभा के विधायक जय कुमार सिंह  अब  बिहार सरकार में सहकारिता
मंत्री है फिर भी किसानो को काफी कठिनाइयाँ  झेलनी पड़ती है ,अतिरिकत
प्राथमिक  स्वास्थ  केन्द्रो की बात करे तो जहा उचित उपकरण नहीं दवाइया न ही
चिकित्स्क ऐसे में मुख्यमंत्री द्वारा बिकास की बात करना बेईमानी सा दिख रही
है

           लेकिन कुछ भी हो अगर इस तरह का बिकास होता रहा तो आने वाला कल
बताएगा की आगामी बिधान सभा चुनाव में विकास पुरुष नीतीश और जद  यु की क्या
स्थिति हो गई


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या