दशानन जिंदा रहेगा

दशानन जिंदा रहेगा



**************
आज दशानन देख मानव को कर रहा घोर अट्टहास 
हे मानव तु क्या कर सकेगा मेरा सम्पूर्ण विनाश 


मै दशानन आज तलक भी तेरी स्मृति में छाया हूँ 
मै कलयुग में विभिन्न रुप धर कर समाज में आया हूँ 


मेरे दश शीश आज भी पड़ते तेरे विकास पर भारी है
मेरी असुर माया आज भी विभिन्न रुपों में जारी है


अगर तु मुझे मारना चाहता है रास्ता मै बता दूंगा 
अपने दश शीश रहस्य तुझे आज मैं बता दूंगा 


पहले समाज में फैली हुई समस्या-समाधान कर
देश के हर क्षेत्र में फैले भ्रष्टाचार पर तु लगाम कर


लड़के-लड़की का भेदभाव तेरे अन्दर गहरा समाया है
जातिवाद ने समाज को मुझसे अधिक दुख पहुंचाया है


साम्प्रदायिकता की सोच जब तेरे समाज में जिन्दा है
मै युंही अट्टहास करुगा क्युकि तु कायर परिन्दा है


तेरे समाज में सिर्फ राजनेता मौज उड़ाते है
लाखों परिवार  भुखमरी का शिकार हो जातें हैं 


तुषटिकरण की राजनीति जब होती रहेगी समाज में 
जब तलक मैं कभी नहीं मरुंगा बता रहा हूँ आज मैं 


नेता हो या अफसर सब भाई भतीजावाद करते हैं 
यह सब मेरे ही रुप है जो मेरा विस्तार करते हैं 


तुम लोभी, लालची मुझे क्या नुकसान पहुंचाओगे 
चंद रुपयों व कार खातिर बहु को जिंदा जिलाओगे 


तुम तो ऐसे नरभक्षी हो बलात्कार में वोट टोहते हो
इंन्साफ से लेनादेना नहीं बस जहर फैलाना चाहते हो


मेरा पुतला जला देने से मैं कभी नहीं मरुंगा प्यारे
जब तलक ये समस्याओं का होता नहीं समाधान प्यारे


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?