डी0एल0एड0 प्रशिक्षण वर्ष 2018 तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नत प्राप्त करने वाले चतुर्थ सेमेस्टर के अर्ह प्रशिक्षुओं एवं डी0एल0एड0 2019 प्रथम सेमेस्टर में कक्षोन्नत प्राप्त करने वाले द्वितीय सेमेस्टर के अर्ह प्रशिक्षुओं की परीक्षा हेतु कार्यक्रम घोषित

-लखनऊ: 17 अक्टूबर, 2020

निदेशक राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद उ0प्र0 डाॅं0 सर्वेन्द्र विक्रम बहादुर सिंह ने बताया कि डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2019 प्रथम सेमेस्टर एवं डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2018 तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा मार्च 2020 में प्रस्तावित थी। किन्तु कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण देशव्यापी लाकडाउन होने के कारण मार्च 2020 में प्रस्तावित परीक्षाएं सम्पादित नही करायी जा सकी। वर्तमान में शासनादेश दिनांक 16.09.2020 द्वारा डी0एल0एड0 प्रशिक्षण वर्ष 2018 तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा हेतु अर्ह प्रशिक्षुओं जो प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर में समस्त विषयों में उत्तीर्ण हो, के औसत अंक के समान अंक प्रदान करते हुए तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नति (प्रमोट) प्रदान की जाने एवं डी0एल0एड0 प्रशिक्षण वर्ष 2019 प्रथम सेमेस्टर के प्रशिक्षुओं को शत-प्रतिशत कक्षोन्नति प्रदान करते हुए आगामी सेमेस्टर की परीक्षाएं अक्टूबर 2020 में सम्पादित कराये जाने के निर्देश दिये गये है।
डा0 सिंह ने बताया कि डी0एल0एड0 प्रशिक्षण वर्ष 2018 तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नत प्राप्त करने वाले चतुर्थ सेमेस्टर के अर्ह प्रशिक्षुओं एवं डी0एल0एड0 2019 प्रथम सेमेस्टर में कक्षोन्नत प्राप्त करने वाले द्वितीय सेमेस्टर के अर्ह प्रशिक्षुओं की परीक्षा हेतु कार्यक्रम घोषित किया गया। इसके साथ ही डी0एल0एड0 प्रथम एवं तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा मंें अनुत्तीर्ण/छुटे हुये प्रशिक्षुओं हेतु भी परीक्षा कार्यक्रम घोषित किया गया। जो इस प्रकार है बी0टी0सी0 बैच 2013/सेवारत् (मृतक आश्रित) एवं 2014, 2015, डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2017 एवं डी0एल0एड0 2018 प्रथम सेमेस्टर (अवशेष/अनुत्तीर्ण) बैक पेपर की परीक्षाएं दिनांक 30.10.2020 से 01.11.2020 तक सम्पादित करायी जायेगी। बी0टी0सी0 प्रशिक्षण-2013 सेवारत् उर्दू/(मृतक आश्रित), बी0टी0सी0-2014, 2015, डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2017 (अवशेष/अनुत्तीर्ण) बैक पेपर एवं डी0एल0एड0 2018 तृतीय सेमेस्टर (कक्षोन्नत किये गये प्रशिक्षुओं से इतर) की परीक्षाएं दिनांक 02.11.2020 से 04.11.2020 तक सम्पादित करायी जायेगी। बी0टी0सी0 बैच 2013/सेवारत् (मृतक आश्रित) एवं 2014, 2015, डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2017 एवं डी0एल0एड0 2018 द्वितीय सेमेस्टर (अवशेष/अनुत्तीर्ण) बैक पेपर, डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2019 द्वितीय सेमेस्टर की परीक्षाएं दिनांक 05.11.2020 से 07.11.2020 तक सम्पादित करायी जायेगी। बी0टी0सी0 प्रशिक्षण-2013, 2014, 2015, सेवारत् उर्दू/(मृतक आश्रित) बी0टी0सी0, डी0एल0एड0 प्रशिक्षण-2017 (अवशेष/अनुत्तीर्ण) बैक पेपर एवं डी0एल0एड0 2018 चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं दिनांक 09.11.2020 से 11.11.2020 तक सम्पादित करायी जायेगी।
डा0 सिंह ने बताया कि निर्धारित परीक्षा कार्यक्रम के अनुसार परीक्षा आवेदन पूरित कराये जाने की कार्यवाही सम्पादित की जा रही है। डी0एल0एड0 2018 प्रथम, द्वितीय सेमेस्टर अनुत्तीर्ण एवं तृतीय सेमेस्टर मे कक्षोन्नति के उपरान्त चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा में प्रतिभाग करने वाले प्रशिक्षुओं का विवरण इस प्रकार है प्रथम सेमेस्टर में अनुत्तीर्ण प्रशिक्षुओं की संख्या, 46732,  द्वितीय सेमेस्टर में  अनुत्तीर्ण प्रशिक्षुओं की संख्या, 57270, प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर में सभी विषयों में उत्तीर्ण प्रशिक्षुओं की संख्या, 80302, कक्षोन्नति हेतु अर्ह पाये गये प्रशिक्षुओं की संख्या, 79375 प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर में अनुत्तीर्ण होने के कारण तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा में सम्मिलित होने वाले प्रशिक्षुओं की संख्या, 62542 है।
डा0 सिंह  ने बताया कि इस प्रकार डी0एल0एड0 2018 तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नति के उपरान्त कुल 79375 प्रशिक्षु चतुर्थ सेमेस्टर एवं प्रथम, द्वितीय सेमेस्टर में अनुत्तीर्ण/आंशिक/छुटे हुए कुल 62542 प्रशिक्षु तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा हेतु अर्ह पाये गये है। जिनकी परीक्षाएं उपर्युक्त परीक्षा कार्यक्रम के अनुसार सम्पादित करायी जानी है। इस बीच डी0एल0एड0 2017 के ऐसे प्रशिक्षुओं द्वारा जो प्रथम, द्वितीय अथवा तृतीय सेमेस्टर में अनुत्तीर्ण होने के कारण तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा दिये जाने हेतु अर्ह थे, उनके द्वारा तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नति किये जाने एवं चतुर्थ सेमेस्टर के प्रशिक्षुओं के साथ प्रस्तावित परीक्षा में स्वयं को सम्मिलित किये जाने अथवा चतुर्थ सेमेस्टर की प्रस्तावित परीक्षा को स्थगित करते हुए तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा में उनके उत्तीर्ण होने के उपरान्त चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा कराये जाने की माॅग को लेकर लखनऊ में निदेशक, राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद कार्यालय, लखनऊ पर एवं इको गार्डन लखनऊ में धरना प्रदर्शन करना शुरू कर दिया गया । चतुर्थ सेमेस्टर की ऐसे परीक्षार्थियों की परीक्षा को स्थगित किया जाना किसी भी दृष्टि से ऐसे परीक्षार्थियों के हित में नही है जो प्रथम एवं द्वितीय सेमेस्टर में उत्तीर्ण होने के कारण कक्षोन्नत किये जाने एवं चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा में सम्मिलित होने हेतु अर्ह है। उन्होने बताया कि डी0एल0एड0 2017 बैच की चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं सम्पादित कराते हुए पूर्व में ही परीक्षाफल फरवरी 2020 में घोषित किया जा चुका है। इस प्रकार 2017 बैच नियमित रूप से पूर्ण हो चुका है। इसमें मात्र वे ही परीक्षार्थी परीक्षा हेतु अवशेष है जो विभिन्न कारणों से विभिन्न सेमेस्टरों में अनुत्तीर्ण/छुटे हुए है। सत्र 2017 के तृतीय सेमेस्टर में 21220 प्रशिक्षु अनुत्तीर्ण होने के कारण है, जिनकी आंशिक परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सम्पादित कराया जाना प्रस्तावित है। इन्हें कक्षोन्नति प्रदान किया जाना उचित नही होगा। इसी प्रकार 2018 बैच के विभिन्न सेमेस्टर में अनुत्तीर्ण परीक्षार्थियों को कक्षोन्नति प्रदान किया जाना उचित नही होगा। क्योंकि इनकों कक्षोन्नति प्रदान किये जाने पर ऐसे अन्य प्रशिक्षुओं को भी कक्षोन्नत प्रदान किया जाना होगा जो 2013, 2014, 2015 बैच में अनुत्तीर्ण/छुटे हुए है। जिसको किसी भी दृष्टि से उचित नही कहा जा सकता है। प्रशिक्षण 2017, 2018 के अनुत्तीर्ण प्रशिक्षुओं को कक्षोन्नति प्रदान किये गये प्रशिक्षुओं से समानता की माॅग किया जाना किसी भी दृष्टि से उचित नही होगा।
डा0 सिंह ने बताया कि इस सम्बन्ध में आन्दोलनरत/धरना दे रहे प्रशिक्षुआंे के प्रतिनिध मण्डल को विभाग के उच्चाधिकारियों द्वारा वार्ता के दौरान यह अवगत कराया गया कि इस प्रशिक्षणार्थियों के हितों को ध्यान में रखते हुए तृतीय सेमेस्टर का परीक्षाफल शीघ्र ही घोषित कर माह जनवरी 2021 के अन्तिम सप्ताह में इन प्रशिक्षओं की चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा भी सम्पादित करा ली जायेगी किन्तु इनके प्रतिनिधि मण्डल द्वारा इस प्रस्ताव से असहमति जताते हुए तृतीय सेमेस्टर में कक्षोन्नत प्रदान किये जाने अथवा कक्षोन्नत प्राप्त चतुर्थ सेमेस्टर की प्रस्तावित परीक्षा को स्थगित कर इन अभ्यर्थियों के साथ परीक्षा कराये जाने की माॅग पर अडे है। जो चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा में प्रतिभाग करने वाले ऐसे प्रशिक्षुओं के हितों के विपरीत होगा जो नियमित रूप से उत्तीर्ण होने के कारण एवं कक्षोन्नत प्राप्त होने के कारण चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा हेतु अर्ह है। आन्दोलनरत/धरनारत प्रशिक्षुओं द्वारा विभिन्न प्रकार से दुषप्रचार करते हुए माहौल को खराब किये जाने एवं प्रस्तावित परीक्षा में बाधा उत्पन्न किये जाने का प्रयास किया जा रहा है। पुनः अनुत्तीर्ण अभ्यर्थियों के भी हितों को ध्यान में रखते हुए निर्धारित परीक्षा कार्यक्रम के अनुसार तृतीय सेमेस्टर की परीक्षा सम्पादित कराये जाने के उपरान्त परीक्षाफल घोषित करते हुए पृथक से माह जनवरी 2021 के अन्तिम सप्ताह में चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षाएं सम्पादित कराये जाने का निर्णय लिया गया है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या