"देना हमें शुभाशीष हे मां गौरी रानी

"देना हमें शुभाशीष हे मां गौरी रानी
हे मां अंबे रानी।
वृषभ सवारी तुम्हरी मैया
सारे जगत की तुम हो रचैया।
हाथ जोड़ हम बिनती करते
मन में श्रद्धा भाव हैं धरते।
देना मां आशीष हमें तुम
अचल रहे अहिवात हमारा
उदित रहे सौभाग्य हमारा
सुनलो अरज हम सबकी माता
अपना भगत जानी,हे मां गौरी
रानी,हे मां अंबे रानी


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हत्या का पुलिस ने कुछ ही घंटों मे किया खुलासा

मंगलमय हो मिलन तुम्हारा

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?