ग्लोबल हैण्डवाषिंग डे की पूर्व संध्या पर मलिन बस्ती में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन


इन्दिरा गाँधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय (इग्नू) क्षेत्रीय केन्द्र, लखनऊ द्वारा मानसरोवर योजना, दुबग्गा, लखनऊ स्थित मलिन बस्ती में ‘‘ग्लोबल हैण्डवाशिंग डे’’ की पूर्व संध्या पर एक विशेष जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसके माध्यम से मलिन बस्ती में निवास कर रहे बच्चों एवं युवाओं को हाथ साफ करने के महत्व के बारे में बताया गया, और साथ-ही-साथ उन्हें हाथ धोने की सही तकनीको की जानकारी दी गयी।


डाॅ0 कीर्ति विक्रम सिंह, क्षेत्रीय निदेशक, इग्नू क्षेत्रीय केन्द्र, लखनऊ एवं कार्यक्रम अधिकारी एन0एस0एस0 ने कहा कि आज जब कोरोना वायरस का खतरा पूरी दुनिया में बढ़ गया है, उसके बाद से लोगों में अपने हाथों की सफाई के महत्व को लेकर जागरूकता बढ़ी है। पर अभी भी लोगों में हाथ धोने की सही तकनीक की जानकारी का अभाव है। आज के कार्यक्रम के माध्यम से मलिन बस्ती वासियों को हाथ धोने की सही तकनीकों के विषय में अवगत कराया गया। साथ ही उन्हें मास्क, सेनिटाईजर और साबुन भी वितरित किये गये।


श्री यषवेन्द्र सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता ने कहा कि कुछ लोग जल्दी-जल्दी अपने हाथों को पानी से धो लेते हैं और खाना खाने लगते हैं, यह एक अच्छी आदत नहीं है। उनको विशेषज्ञों द्वारा हाथ धोने के सही तरीकों का पालन करना चाहिए इससे न केवल उनका कोरोना से बचाव होगा बल्कि अन्य बिमारियों से भी वे बच पायेंगे।


इस अवसर पर सोशल अपलिफ्टमेण्ट थ्रू रिर्सच एण्ड एक्शन (सूत्र) संस्था के स्वयं सेवकों ने हैण्डवाशिंग की सही तकनीकों का प्रदर्शन किया और मलिन बस्ती वासियों को मास्क वितरित किए। कार्यक्रम का आयोजन बदलाव संस्था के सौजन्य से किया गया और संस्था के पदाधिकारी श्री राम जी वर्मा, श्री शुभम सिंह चैहान, अमित रावत एवं पीरनगर प्राथमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य संतोष तिवारी व सहायक अध्यापिका गुंजन गुप्ता भी उपस्थित थी।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या