हमारा जम्मू-कश्मीर

 हमारा जम्मू-कश्मीर 



*************
जम्मू-कश्मीर के माहौल को अशांत कर दिया
अब्दुल्ला एवं महबूबा ने जहर सा है भर दिया


370, 35 A की आड़ ले खूब लूट मचाई थी
वो 35 A तो  खुद सिर्फ बैकडोर  से आई थी


खानदानों ने बहुत ही ज्यादा जहर फैलाया 
जम्मू-कश्मीर की जनता को सदा बरगलाया 


अब राजनीति खत्म हो गई, शोर मचा रहे हैं 
अस्तित्व बचाने को 'गुपकार' आगे ला रहे हैं 


तिरंगे का अपमान करे, मंसूबा नहीं चाहिए
जम्मू-कश्मीर को अब महबूबा नहीं चाहिए 


सड़क-पुल बनने लगे, लाल चौक पर शांति है
यह नये जम्मू-कश्मीर में हुई अदभुत क्रांति है


बिजली पानी की सुविधा की हुई शुरुआत है
गद्दारों के पेट में न पचती, सुविधा की बात है


देश से जो गददारी करें, गोली मारो छाती पर 
कोई गद्दार न पैदा होगा, भारत की माटी पर


सुन इनकी बद्जुबानी खून मेरा खौल रहा है
डाॅ सतीश निज बात कलम द्वारा बोल रहा है
*************
डाॅ सतीश चंदाना
 कुरुक्षेत्र हरियाणा


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या