हर्षोल्लास पूर्वक मनाई गई राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती

* स्वच्छता कार्यक्रम, बृक्षारोपण एवं गोष्ठी कार्यक्रम हुए आयोजित

 


 

ललितपुर।

ग्रामीण आंचलों में हर्षोल्लास पूर्वक राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी एवं देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री का जन्मदिन मनाया गया।

उपजिलाधिकारी कार्यालय में उपजिलाधिकारी मड़ावरा ज्ञानेश्वर प्रसाद ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान तहसीलदार मनोज कुमार सरोज सहित लेखपाल आदि उपस्थित रहे। ब्लॉक मड़ावरा में ब्लॉक प्रमुख चंद्रदीप रावत ने ध्वजारोहण किया। 

ब्लॉक संसाधन केंद्र मड़ावरा में खण्ड शिक्षा अधिकारी रामगोपाल वर्मा ने ध्वजारोहण किया। उन्होंने ध्वजारोहण के बाद राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी एवं देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री को पुष्प अर्पित कर नमन किया। इस दौरान खण्ड शिक्षा अधिकारी रामगोपाल वर्मा ने राष्ट्रपिता महात्मा गांघी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के जीवन पर विस्तृत प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपिता मोहनदास कर्मचंद गांधी जिन्हें बापू या महात्मा गांधीजी जन्म दिन २ अक्टूबर को गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को विश्व अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। वस्तुतः गांधीजी विश्व भर में उनके अहिंसात्मक आंदोलन के लिए जाने जाते हैं और यह दिवस उनके प्रति वैश्विक स्तर पर सम्मान व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है। भारतवर्ष आपको प्‍यार से बापू पुकारता है। इस दौरान खण्ड शिक्षा अधिकारी रामगोपाल वर्मा, एआरपी राजीव श्रीवास्तव, हरि साहू, इं.प्र.अ. रहनुमा बानों, स.अ. साधना ताम्रकार, पंकज, पुरूषोत्तम विश्वकर्मा, मानसिंह आदि उपस्थित रहे।

पूर्व माध्यमिक विद्यालय पहाड़ीकलां ग्राम प्रधान प्रतिनिधि मुकुंद सिंह ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान इंचार्ज प्रधानाध्यापक राजाराम, अनुदेशक प्रतिभा, अर्चना आदि उपस्थित रहीं। 

पूर्व माध्यमिक कंपोजिट विद्यालय गंगचारी में प्रधानाचार्य डॉ. अखिलेश गोस्वामी ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान स.अ. हरिशंकर सोनी आदि उपस्थित रहे। 

 

थाना मड़ावरा में इंस्पेक्टर मड़ावरा कृष्ण वीर सिंह ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान समस्त थाना पुलिस बल उपस्थित रहा। वन क्षेत्राधिकारी कार्यालय में रेंजर मोहम्मद इफ्तिखार खान ने ध्वजारोहण किया। इस दौरान वन दरोग़ा हनुमत सिंह, श्याम लाल, महेन्द्र, हल्कूराम, हुकम सिंह, प्रेम सिंह, सुरेश कुमार, मानसिंह, ग्याप्रसाद निरंजन, संतोष रजक, किशुन लाल,  ओमप्रकाश सिंह, बीरेन्द्र सहाय श्रीवास्तव, लक्खी राम, हजारीलाल, रामलाल आदि उपस्थित रहे।

 

सरस्वती मन्दिर इण्टर कॉलेज मड़ावरा में ध्वजारोहण कॉलेज के प्रधानाचार्य रामसजीवन प्रजापति ने किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि महात्मा गाँधी जी को सत्य एवं अहिंसा का पुजारी कहा जाता है। उन्होंने कहा कि गांधी जी जहाँ रामराज्य की स्थापना के पक्षधर रहे हैं वहीं दूसरी ओर लाल बहादुर शास्त्री जी के सादा जीवन और उच्च विचार की प्रतिमूर्ति के रूप में महान देशभक्त की संज्ञा दी। आपने कहा कि वर्तमान सरकार चाहती है कि देश में रामराज्य स्थापित हो जिससे कि भेद भाव भूलकर सभी देशवासी आपसी भाईचारे की भावना से शांत व सुखी जीवन व्यतीत कर सके। संविधान के दायरे में रहकर समस्याओं को हल करने में सक्षम रहे। स०अ० सन्तोष कुमार त्रिपाठी ने गांधी जी व शास्त्री जी के जीवन शैली पर विस्तार से जानकारी दी। 

      इस अवसर पर अध्यापकों व कर्मचारियों ने श्रमदान किया और बृक्षारोपण किया। स०अ० भवानी शंकर ने योगासनों का ज्ञान कराया। अरविंद कुमार नामदेव, हरिशरण चौरसिया, ध्रुव प्रसाद विश्वकर्मा, प्रताप सिंह, त्रिलोक सिंह, पवन सिंह, वीरन प्रसाद भर्तेले, घूमन सिंह, रामपाल सिंह, कीरत सिंह, यशवंत कुमार शर्मा, राहुल कुमार झा, जगदीश सिंह, जाहर सिंह, चुन्नीलाल, हरीराम, शंकर लाल, ऊदल सिंह, धर्म सिंह, अशोक आदि उपस्थित रहे।

 

सरस्वती मन्दिर महाविद्यालय मड़ावरा में

महाविद्यालय के  प्राचार्य डॉ. घूमन सिंह ने ध्वजारोहण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि लालबहादुर शास्त्री का जन्म 2 अक्टूबर 1904 मुगलसराय में हुआ था। उनकी  मृत्यु 11 जनवरी 1966 ताशकन्द में हुई थी। वे भारत के दूसरे प्रधानमन्त्री थे। वह 9 जून 1964 से 11 जनवरी 1966 को अपनी मृत्यु तक लगभग अठारह महीने भारत के प्रधानमन्त्री रहे। इस प्रमुख पद पर उनका कार्यकाल अद्वितीय रहा। उनकी सादगी, देशभक्ति और ईमानदारी के लिये मरणोपरान्त भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

 इस दौरान महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. घूमन सिंह, प्रवक्ता मुकुन्द सिंह, इन्द्रपाल सिंह, वरिष्ठ लिपिक खिलावन सिंह, सहदेव सिंह, लिपिक अरविन्द सिंह,  जाहर सिंह, रावसाहब आदि उपस्थित रहे। 

 

ग्राम साढूमल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी की जयन्ती मनाई गई। भाजपा महरौनी मण्डल उपाध्यक्ष शिवा सिंह तोमर ने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि 

देश उनके विचार और मानवता के प्रति योगदान को हमेशा याद रखेगा। उन्होंने कहा कि उनकी जीवन शैली समाज के कमजोर वर्गों को सशक्त और मजबूत बनाती है. सत्य, अहिंसा और प्रेम का उनका संदेश समाज में समरसता और समानता लाकर दुनिया के कल्याण का मार्ग प्रशस्त करता है। कहा कि पूरी दुनिया जानती है कि गांधी एक असाधारण प्रकार के क्रांतिकारी थे। वह एक महान विचारक थे और एक संत व्यक्ति भी दुनिया भर में अच्छी तरह से जाना जाता है। यह भी व्यापक रूप से ज्ञात है कि वह अंतरराष्ट्रीय ख्याति के मानवतावादी और शांतिवादी थे। महेश कुमार ने दे दी हमें आज़ादी बिना खडग बिना ढाल, साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल गीत के द्वारा अपने भाव व्यक्त किये। इस दौरान शिवा सिंह तोमर मंडल उपाध्यक्ष भाजपा महरौनी, राहुल गोस्वामी, राजीव कुमार साहू, जगत पटेल सेक्टर अध्यक्ष, शांत कुमार साहू, गोकुल सेन, महेश कुमार निरंजन, कुलदीप पाण्डेय, भागवानदास सेन, रामनाथ निरंजन, नरेंद्र साहू आदि लोग मौजूद रहे।

 

 

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या