झांसी सहित प्रदेश के 37 जनपदो के 346 ग्रामो के 41,431 प्रॉपर्टी कार्ड का वितरण जनप्रतिनिधियों एवं जनपद स्तरीय अधिकारियों की उपस्थिति में किया गया


प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने आज वचुर्अल माध्यम से स्वामित्व योजना का शुभारम्भ किया। इस योजना के अन्तर्गत 06 राज्यों के 763 गांवों में प्रॉपर्टी कार्ड का वितरण किया गया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी अपने सरकारी आवास पर वचुर्अल माध्यम से सम्मिलित हुए। इनके अलावा अन्य प्रदेशों के माननीय मुख्यमंत्री भी शामिल हुए।

 इस अवसर पर प्रधानमंत्री जी ने ग्रामीण आवासीय अभिलेख (घरौनी) का डिजिटल वितरण किया। प्रॉपर्टी कार्ड के वितरण कार्य का शुभारम्भ किए जाने के साथ ही, उत्तर प्रदेश के 37 जनपदाें के 346 ग्रामों के 41,431 ग्रामीण आवासीय अभिलेखाें की हार्ड कॉपी का ग्रामाें में वितरण जनप्रतिनिधियों एवं जनपद स्तरीय अधिकारियाें की उपस्थिति में किया गया।

प्रधानमंत्री जी ने उत्तर प्रदेश के जनपद बाराबंकी के 02 लाभार्थियों  श्रीमती रामरती तथा श्री राममिलन से संवाद किया। उन्होंने लाभार्थियों से स्वामित्व योजना के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की। लाभार्थियो ने बताया कि स्वामित्व का अधिकार मिलने से उन्हें अपनी प्रॉपर्टी पर सुरक्षा की गारण्टी मिलेगी तथा लोन प्राप्त हो सकेगा। 

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि स्वामित्व याेजना ने गरीबाे के हाथ में ताकत सौंपी है।

यह योजना हमारे गांवाें में ऐतिहासिक परिवर्तन लाएगी। आत्मनिर्भर भारत अभियान काे सफल बनाने में यह योजना मील का पत्थर साबित हाेगी। इस याेजना से ग्रामीण क्षेत्रों में

सम्पत्ति सम्बन्धी विवादों में काफी कमी आएगी। ग्रामवासियाें को आबादी क्षेत्र में स्थित सम्पत्तियों (भवन, प्लॉट आदि) के

प्रमाणित दस्तावेज प्राप्त होंगे , जिनका उपयोग बैंकों से लोन आदि प्राप्त किए जाने में किया जा सकेगा। आबादी क्षेत्रों का प्रारम्भिक डाटा तैयार होने से विकास हेतु सरकारी योजनाएं संचालित किए जाने में सुगमता होगी।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है। पिछले 06 वर्षो में गांवों के लिए जितना काम किया गया है, उतना 06 दशक में नहीं हुआ। वर्तमान सरकार गांव, 

गरीब और किसान के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से व्यापक परिवर्तन लाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने रिकॉर्ड संख्या में बैंक खाते खोलने का काम किया। गावों में सड़क, शाैचालय, बिजली की व्यवस्था के साथ ही, उज्ज्वला गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया है। सभी काे स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के उद्देश्य से पेयजल याजेना संचालित की गई है। ऑप्टिक फाइबर का एक वृहद जाल फैलाया गया है, जिससे लोगों को माेबाइल में बेहतर नटेवर्क की प्रप्ति हाे रही है। उन्होंने कहा कि खेती में ऐतिहासिक सुधार किए गए हैं। कृषि क्षेत्र में हुए इस बदलाव से किसानों को असीम सम्भावनाएं प्राप्त होंगी। 

प्रधानमंत्री जी ने लोगों से अपील की कि कोविड-19 के

दौरान मास्क पहनने, 02 गज की दूरी का पालन करने, अनावश्यक घर से बाहर न निकलने और ‘जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं’ के मूलमंत्र को जीवन का हिस्सा बनाए।

 

 स्वामित्व योजना" मेरी संपत्ति- मेरा हक" कार्यक्रम में आज झांसी में 1599 व्यक्तियों को घरौनी (प्रॉपर्टी कार्ड )वितरित किए गए। जनपद झांसी में विकासखंड बबीना के ग्राम खिरियापाली,गंगावली,परसर, पाली परिसर व रनगुवां के 583 लाभार्थियों को प्रॉपर्टी कार्ड वितरित किए, कार्यक्रम का आयोजन ग्राम खिरिया पाली में विधायक बबीना श्री राजीव सिंह पारीछा की अध्यक्षता में आयोजित किया गया।

 इसी क्रम में तहसील मोंठ के ग्राम ग्यारई, चितगुवां, धौरका, मंगूसा, बदोरा व सिकंदरा गांव के 1016 लाभार्थियों को ग्राम सिकंदरा में विधायक गरौठा श्री जवाहर लाल राजपूत द्वारा प्रॉपर्टी कार्ड भेंट किए गए।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथियों ने कहा कि यह एक अविस्मरणीय क्षंण है, अब आप मालिक बन गए हैं कोई भी अब आपको यहां से बेदखल नहीं कर सकता है। माननीय प्रधानमंत्री जी व प्रदेश के मुखिया माननीय योगी आदित्यनाथ जी आप के विकास के प्रति प्रतिबद्ध हैं। गांव में रहने वालों का जीवन जीवन सुगम हो और देश का विकास हो।

 माननीय प्रधानमंत्री जी द्वारा स्वामित्व योजना के वर्चुअल कार्यक्रम में एनआईसी झांसी में जिलाधिकारी श्री आंद्रा वामसी, नगर आयुक्त श्री अवनीश कुमार राय, एडीएम श्री बी प्रसाद, सांसद प्रतिनिधि श्री अतुल अग्रवाल उपस्थित रहे।

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सबसे बड़ा वेद कौन-सा है ?

कर्नाटक में विगत दिनों हुयी जघन्य जैन आचार्य हत्या पर,देश के नेताओं से आव्हान,