झटपट कनेक्षन, निवेश मित्र पोर्टल तथा निजी नलकूपों के ऊर्जीकरण कार्यों में तेजी लायी जाये- श्रीकान्त शर्मा

लखनऊ: दिनांक 28 अक्टूबर, 2020
प्रदेश के ऊर्जा एवं अतिरिक्त ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने झटपट विद्युत संयोजन, निवेशमित्र पोर्टल तथा निजी नलकूपों के विद्युत संयोजनों को देने के कार्यों में तेजी लाने के निर्देष दिये है। शक्ति भवन में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने झटपट योजना के तहत विद्युत संयोजनों को निर्गत करने में हो रहे विलम्ब पर नाराजगी व्यक्त की तथा निर्देषित किया कि उपभोक्ता को विद्युत संयोजन षीघ्र एवं आसानी से मिले इसके लिये तेजी लायी जाये। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं की सुविधा के लिये यह योजना प्रारम्भ की गयी है। इसलिये समयबद्ध तरीके से इसका निस्तारण होना चाहिए। इसी तरह उन्होंने निजी नलकूपों के ऊर्जीकरण एवं निवेष मित्र पोर्टल के लम्बित मामलों पर भी नाराजगी व्यक्त करते हुये प्रकरणों के त्वरित निस्तारण के निर्देष दिये। 
उन्होंने कहा कि सरकार सिंचाई सुविधा बढ़ाकर किसानों को  अधिक से अधिक सुविधा देना चाहती है। निजी नलकूपों के ऊर्जीकरण में विलम्ब नहीं होना चाहिए। यदि किसी भी तरह के उत्पीड़न या लापरवाही की षिकायत प्राप्त हुयी तो दोशी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने पूर्ण जमा योजना के तहत आवेदित टयूबवेल कनेक्षनों के निर्गत होने में विलम्ब पर नाराजगी जताते हुये निर्देश दिया कि एस्टीमेट जमा होने के एक माह के भीतर कनेक्षन अवष्य चालू कर दिया जाए। कृशि कनेक्षनो में विलम्ब किसी भी स्तर में स्वीकार नहीं किया जाएगा। उन्होंने उ0प्र0 पावर कारपोरेषन के प्रबन्ध निदेषक को निर्देषित किया कि वे दोशियों के विरूद्ध कार्यवाही करें।
ऊर्जा मंत्री ने प्रदेष के सभी डिस्काॅम्स की समीक्षा करते हुये झटपट, निवेष मित्र पोर्टल तथा पीटी डब्लू के लम्बित आवेदनों पर नाराजगी जताई तथा निर्देषित किया कि पोर्टल पर आने वाले आवेदनों की नियमित स्क्रूटनी की जाए। डिस्काॅम स्तर पर प्रबन्ध निदेषक इसकी निगरानी करायें कि किसी भी डिवीजन में कहीं भी किसी प्रकार के प्रकरण लम्बित न हो। उपभोक्ता को समय से कनेक्षन व समय से सही बिल मिले यह सुनिष्चित होना चाहिए। 
निवेष मित्र पोर्टल पर 101 आवेदन लम्बित हैं। इसी तरह झटपट पोर्टल पर 5445 आवेदन लम्बित है। यद्यपि 19051 आवेदनों को समय से निस्तारित किया गया। निजी नलकूप पोर्टल पर 5029 आवेदन लम्बित है। जिस पर ऊर्जा मंत्री ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की।
ऊर्जा मंत्री के निर्देषों के अनुपालन में उ0प्र0 पावर कारपोरेषन के प्रबन्ध निदेषक एम0 देवराज ने लम्बित प्रकरणों के सन्दर्भ में प्रदेष के सभी वितरण निगमों के प्रबन्ध निदेषकों को निर्देषित किया है कि वे लम्बित प्रकरणों के षीघ्र निस्तारण हेतु प्रभावी कार्यवाही सुनिष्चित करें।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या