कोर्ट ने बिना परिवार के सहमति के गुड़िया का अंतिम संस्कार किये जाने से कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की है

ब्रेकिंग अप्डेट


कोर्ट रूम से हर अपडेट सबसे पहले


परिवार कोर्ट को आपबीती बता रहा


सबसे पहले परिवार को सुना जा रहा


इसके बाद डीएम हाथरस जवाब देंगे


डीएम के बाद SP को जवाब देना है


ब्रेकिंग अप्डेट



लगाया आरोप।


पुलिस ने शुरुआत से ही सही जांच नहीं की, हमें परेशान किया।


कोई मदद नहीं कि, शुरू में FIR भी नहीं लिखी।


बिना हमारी सहमति के रात में अंतिम संस्कार कर दिया।


अंतिम संस्कार में भी हमें शामिल नहीं किया।


हमे पुलिस की जांच पर भरोसा नहीं।


DM ने भी अनुचित दबाव बनाया।


सरकार ने 2 नवंबर तक का समय मांगा है 


कोर्ट ने बिना परिवार के सहमति के गुड़िया का अंतिम संस्कार किये जाने से कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की है 


कोर्ट ने अफसरों को जमकर फटकार लगाई है 


परिवार को सुरक्षा को लेकर सरकार सहमत 


कोर्ट में सरकार संतोषजनक जवाब नही दे पाई है   


पीड़िता की वकील सीमा कुशवाहा  का बयान


लखनऊ


सरकार के वकील एएजी विनोद शाही का बयान


कोर्ट के आदेश का इंतजार है : शाही,


कोर्ट ने फिलहाल कोई आदेश नही दिया है : शाही।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या