निर्माण कार्यों में गुणवत्ता एवं समयबद्धता का हर स्तर पर अनुपालन सुनिश्चित किया जाय-कल्पना अवस्थी

लखनऊ, दिनांक: 23.10.2020

उत्तर प्रदेश के ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती कल्पना अवस्थी ने विभागीय अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा कि ग्रामीण अभियंत्रण विभाग द्वारा जनपदों में कराये जा रहे कार्यों की निरीक्षण नियमित रूप से करें ताकि कार्यों की गुणवत्ता और पारदर्शिता में कोई कमी न रह पाये। इस कार्य में किसी प्रकार की शिथिलता न बरती जाय। उन्होंने कहा कि लापरवाही बरतने पर कठोर कार्यवाही की जायेगी।
प्रमुख सचिव आज योजना भवन में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर रहीं थीं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि लम्बित कार्यों का निस्तारण प्राथमिकता पर कराया जाय, यदि उसमें किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है, तो उसका शीघ्र समाधान निकालें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि विभिन्न विभागों से धनराशि समय से न मिलने पर उन विभागों को धनराशि आवंटन हेतु अनुस्मारक पत्र भिजवाएं।
श्रीमती अवस्थी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि त्वरित आर्थिक विकास योजना के तहत कराये जा रहे कार्यों को 10 नवम्बर तक अवश्य पूर्ण कर लिए जाएं। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि लेपन स्तर तक का कार्य प्राथमिकता से पूरा कराया जाय। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि आंगनवाड़ी केन्द्रों के निर्माण कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण कराएं। उन्होंने सी0सी0 रोड तथा इंटरलाकिंग कार्य तत्काल पूर्ण कराये जाने के निर्देश दिये।
प्रमुख सचिव ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सामान्य योजना के अन्तर्गत 50 लाख रूपए से अधिक भवन निर्माण कार्यों को निर्धारित समय पर पूरा किया जाय। उन्होंने अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि कराये जा रहे कार्यों पर समयबद्धता एवं गुणवत्ता पर पूरा ध्यान दिया जाय। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत डीपीआर बनाये जाने पर अधिकारियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि पीएमजीएसवाई योजना के अन्तर्गत अनुबन्ध का कार्य तय समयसीमा में कराएं। उन्होंने गड्ढामुक्त मार्गों का कार्य प्राथमिकता पर कराये जाने के निर्देश दिये हैं।
श्रीमती अवस्थी ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि जनपदों में सरप्लस स्टाक की नीलामी का कार्य पूर्ण कराएं। कोर्ट केसों में शपथ पत्र समय पर प्रस्तुत किये जाएं। इसके साथ विभागीय जांचों का निस्तारण यथाशीघ्र कराया जाय। आईजीआरएस में लम्बित प्रकरणों का समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित करें।
ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग के निदेशक श्री ब्रजेन्द्र कुमार ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि विभाग द्वारा लम्बित कार्यों को समयबद्ध एवं गुणवत्तापूर्ण तरीके से निस्तारण कराएं। निदेशक ने प्रमुख सचिव को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा दिये गये निर्देशों का अनुपालन कड़ाई से कराया जायेगा।
वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में विशेष सचिव ग्रामीण अभियन्त्रण, श्री राजेन्द्र कुमार सिंह, मुख्य अभियन्ता, श्री दिनेश कुमार, वित्त नियंत्रक श्री शिव सिंह सहित अन्य वरिष्ठ विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या