प्रदेश के हर थाने में होगी अब महिला हेल्प डेस्क

लखनऊ 16 अक्टूबर, 2020
पुलिस थानों में जाने और अपनी शिकायत दर्ज कराने के लिए अब महिलाओं को संकोच नहीं करना होगा। महिलाएं थाने में अपनी बात खुल कर कह सकेंगी। इसके लिए हर थाने में बाकायदा एक महिला हेल्प डेस्क स्थापित करने की व्यवस्था की जायेगी। गृह विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार महिलाओं की सुरक्षा को लेकर लगातार कदम उठा रही वर्तमान सरकार ने गुरूवार को यह फैसला लिया है। पुलिस थानों में महिलाओं के जाने में हिचकने और अपनी बात कह पाने में संकोच करने को देखते हुए राज्य सरकार ने इस फैसले को तत्काल लागू करने के निर्देश जारी किए हैं।
17 अक्टूबर 2020 से यू0पी0 में महिलाओं के लिए मिशन शक्ति अभियान का एलान कर चुके मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के इस कदम को महिला सुरक्षा की मुहिम से जोड़ कर देखा जा रहा है। थानों में बनाई जाने वाली हेल्प डेस्क पर महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती की जाएगी। हेल्प डेस्क पर तैनात महिला पुलिसकर्मी शिकायतों को सुनने के साथ ही किसी भी वक्त महिलाओं की मदद के लिए भी तैयार रहेंगी।
उल्लेखनीय है कि वर्तमान सरकार इससे पहले राजधानी के अलग.अलग चैराहों पर महिलाओं की सहायता के लिए पिंक बूथ भी बनाए हैं। कार्य स्थल से देर रात लौटने वाली महिलाओं को घर तक पहुंुचाने की व्यवस्था भी प्रदेश सरकार कर रही है। महिला सुरक्षा पर योगी सरकार की गंभीरता का नतीजा है कि राजधानी समेत उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों के चैराहों पर भी महिला पुलिसकर्मियों की तैनाती अनिवार्य रूप से की जा रही है।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या