प्रत्येक टीम संवेदनशील होकर डोर टू डोर टेस्टिंग करें-आन्द्रा वामसी

टीम के प्रति दिन के कार्यों की डाटा फीडिंग सुनिश्चित हो  



जिलाधिकारी श्री आन्द्रा वामसी अचानक जिला क्षय रोग चिकित्सालय पहुंचे। उन्होंने कहा टेस्टिंग हेतु टीम क्षेत्र में संवेदनशील होकर कार्य करें, कोई भी घर छूटने ना पाए। सभी टीम अधिक से अधिक टेस्टिंग अवश्य करें ताकि जो भी सर्विलांस के दौरान मोरकोविड पेशेंट चिन्हित किए गए हैं, उनकी टेस्टिंग की जा सके और उन्हें सूचित किया जा सके।
 जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि प्रत्येक टीम के साथ पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित हो। उन्होंने कहा शिकायतें प्राप्त हुई है कि टेस्टिंग टीम के साथ लोगों ने अभ्रदता की, इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, सख्त कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि जो व्यक्ति संदिग्ध है और टेस्टिंग के लिए नहीं आ रहा है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए। उन्होंने सभी टीम के सदस्यों से कहा कि आपका लक्ष्य ऐसे व्यक्ति हैं जो अन्य बीमारी से ग्रस्त हैं तथा  जांच हेतु आगे नहीं आ रहे हैं। प्राथमिकता से उनकी टेस्टिंग की जाए।
जिलाधिकारी ने  आम जनमानस से से अपील करते हुए कहा कि कोविड-19 की वैक्सीन नहीं है, इससे बचाव के लिए 2 गज की दूरी और मास्क है जरूरी के नियम का पालन करना होगा। 
 नगर आयुक्त श्री अवनीश कुमार राय ने बताया कि आज 32 टीम नगर के विभिन्न क्षेत्रों में तथा कुछ टीमों को सिक्स पॉइंट पर तैनात किया गया है, प्रत्येक टीम में 3 से 4 सदस्य कार्य कर रहे हैं। सभी के साथ पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था उपलब्ध है। टीम द्वारा किए गए कार्य की डाटा फीडिंग लगातार की जा रही और टीम द्वारा जो  जो कार्य किया जा रहा है। उसके सापेक्ष प्रगति क्या है उसकी समीक्षा की जाएगी। डाटा एंट्री ऑपरेटर व कंप्यूटर पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं।
 इस मौके पर सीएमओ डॉक्टर जीके निगम, एसीएमओ डॉ सुधीर कुलश्रेष्ठ,डॉ.प्रतीक गुबरेले, डॉक्टर प्रदीप गुप्ता सहित अन्य उपस्थित रहे।


इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बिहार में स्वतंत्रता आंदोलन : विहंगम दृष्टि

सरकारी पद पर कोई भर्ती नहीं होगी केंद्र सरकार ने नोटिस जारी कर दिया

शौंच को गई शिक्षिका की दुष्कर्म के बाद हत्या